शाओमी रेडमी नोट 4 का रिव्यू

 
शाओमी रेडमी नोट 4 का रिव्यू

ख़ास बातें

  • कंपनी ने 19 जनवरी को रेडमी नोट 4 स्मार्टफोन लॉन्च किया
  • यह मेटल बॉडी और बेहतरीन स्पेसिफिकेशन के साथ आता है
  • रेडमी नोट 4 की कीमत बजट सेगमेंट में रखी गई है
कम दाम में अच्छे स्पेसिफिकेशन वाले स्मार्टफोन लॉन्च करने की रणनीति अब तक शाओमी के पक्ष में गई है। इस चीनी कंपनी ने भारत में पिछले साल 1 बिलियन डॉलर का बिजनेस करने का आंकड़ा पार किया। यह बेहद ही चौंकाने वाला आंकड़ा है, क्योंकि कंपनी ने 2014 में शाओमी मी 3 के ज़रिए भारतीय मार्केट में कदम रखा था।

शाओमी के रेडमी रेंज के स्मार्टफोन बेहद ही अहम रहे हैं। अच्छी बात यह है कि इसे भारतीय मार्केट में ग्राहक भी मिले हैं। कंपनी का दावा है कि रेडमी नोट 3 और रेडमी 3एस (रेडमी 3एस प्राइम) पिछले साल फ्लिपकार्ट और अमेज़न सेल में सबसे ज़्यादा बिकने वाले डिवाइस रहे। ख़ासकर रेडमी नोट 3 ने भारतीय मार्केट में जबरदस्त सफलता हासिल की है। कंपनी के मुताबिक, मात्र 6 महीने में सिर्फ भारत में 23 लाख से ज़्यादा रेडमी नोट 3 हैंडसेट बिके थे। हालांकि, इस फोन की उम्र लगभग एक साल की हो गई है। अब कंपनी ने मार्केट में इसका उत्तराधिकारी पेश किया है।


कंपनी ने 19 जनवरी को रेडमी नोट 4 स्मार्टफोन लॉन्च किया। पुराने वाले वेरिएंट की तरह यह मेटल बॉडी और बेहतरीन स्पेसिफिकेशन के साथ आता है।  रेडमी नोट 4 को सबसे पहले चीन में पिछले साल अगस्त महीने में लॉन्च किया गया था। यह मीडियाटेक के डेका कोर प्रोसेसर के साथ आता है। वहीं, भारत वाले वेरिएंट में क्वालकॉम चिपसेट है। रेडमी नोट 4 की कीमत बजट सेगमेंट में रखी गई है और इसकी भिड़ंत मार्केट में मौज़ूद ज़्यादातर लोकप्रिय हैंडसेट से होगी। क्या शाओमी रेडमी नोट 4 एक बार फिर कंपनी के लिए भरोसे वाला प्रोडक्ट साबित होगा? क्या इस डिवाइस के साथ रेडमी सीरीज़ की सफलता पर ब्रेक लग जाएगा? आइए रिव्यू के ज़रिए जानते हैं।

शाओमी रेडमी नोट 4 डिज़ाइन
रेडमी नोट 4 में आपको रेडमी नोट 3 की झलक नज़र आएगी, ख़ासकर डिज़ाइन के लिहाज से। फ्रंट पैनल बहुत हद तक पुराने वाले फोन की तरह ही है। आपको आगे की तरफ 2.5डी कर्व्ड एज ग्लास मिलेगा जो फोन को प्रीमियम लुक देता है। फुल-मेटल बॉडी वाला यह फोन मज़बूत होने का एहसास देता है। वहीं, रेडमी नोट 3 की तुलना में पिछला हिस्सा हाथों में कम फिसलता है।

रेडमी नोट 4 का पिछला हिस्सा थोड़ा अलग है। यह आपको कंपनी के प्रीमियम हैंडसेट शाओमी मी 5 (रिव्यू) की याद दिलाएगा। बेहद ही पतले एंटिना बैंड ऊपर से नीचे की तरफ आते हैं। रियर कैमरा, डुअल टोन एलईडी फ्लैश और फिंगरप्रिंट स्कैनर का सेटअप रेडमी नोट 3 वाला ही है। हालांकि, इस बार शाओमी ने फोन में स्पीकर ग्रिल को निचले हिस्से में जगह दी है। निचले हिस्से में चार्जिंग और डेटा ट्रांसफर के लिए यूएसबी पोर्ट है। टॉप में आपको 3.5 एमएम ऑडियो जैक के साथ इंफ्रारेड एमिटर मिलेगा। पावर और वॉल्यूम बटन दायीं तरफ हैं और इन तक ऊंगलियों से पहुंचना आसान है।
 
xiaomi

8.3 मिलीमीटर मोटाई वाला रेडमी नोट 4 पुराने वेरिएंट से पतला है। लेकिन वज़न 1 ग्राम ज़्यादा है। हमें रेडमी नोट 4 को एक हाथ से इस्तेमाल करने में दिक्कत नहीं हुई। घुमावदार किनारे आसानी से हथेली में फिट हुए। लंबे वक्त तक इस्तेमाल करने में भी दिक्कत नहीं हुई। डिज़ाइन की बात करें तो रेडमी नोट 4 अब तक का सबसे बेहतरीन दिखने वाला रेडमी स्मार्टफोन है। चीन में इसे डार्क ग्रे और गोल्ड कलर में उपलब्ध कराया गया था। लेकिन भारत में ग्रे की जगह मैटे ब्लैक कलर ने ले ली है। यह रंग भारतीय मार्केट के लिए एक्सक्लूसिव है। बता दें कि हमें रिव्यू करने के लिए गोल्ड वाला वेरिएंट दिया गया था।

5.5 इंच का फुल-एचडी आईपीएस डिस्प्ले का रिज़ॉल्यूशन 1080x1920 पिक्सल है। इसकी डेनसिटी 401 पिक्सल प्रति इंच है। फुल-एचडी रिज़ॉल्यूशन के कारण टेक्स्ट और इमेज बेहद ही शार्प नज़र आते हैं। स्क्रीन से आपको पंची कलर मिलेंगे। व्यूइंग एंगल अच्छे हैं। और सूरज की रोशनी में भी स्क्रीन पर पढ़ने में दिक्कत नहीं होती। स्क्रीन साइज़ की वजह से रेडमी नोट 4 वीडियो या सिनेमा देखने के लिए बेहद ही उपयुक्त है। आप सेटिंग्स में जाकर कलर टेंप्रेचर को मैनेज कर सकेंगे। रीडिंग मोड के कारण स्मार्टफोन में कुछ भी पढ़ने में सहूलियत होती है।

शाओमी रेडमी नोट 4 स्पेसिफिकेशन और फ़ीचर
शाओमी रेडमी नोट में 2 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है। ग्राफिक्स के लिए एड्रेनो 506 जीपीयू इंटिग्रेटेड है। शाओमी भारत में इसके तीन वेरिएंट बेच रही है- 2 जीबी रैम/ 32 जीबी स्टोरेज, 3 जीबी रैम/ 32 जीबी स्टोरेज और 4 जीबी रैम/ 64 जीबी स्टोरेज। कंपनी ने हमें रिव्यू के लिए टॉप एंड वेरिएंट दिया था।

हैंडसेट में हाइब्रिड सिम स्लॉट है, यानी आपको दूसरे सिम या माइक्रोएसडी कार्ड में से एक को चुनना होगा। कंपनी ने बताया कि दोनों ही सिम स्लॉट 3जी और 4जी नेटवर्क को सपोर्ट करते हैं। ऐसा लगता है कि कंपनी ने रेडमी नोट 3 की सीमित 32 जीबी माइक्रोएसडी कार्ड सपोर्ट की क्षमता की शिकायत को गंभीरता से लिया है। यह फोन 128 जीबी तक के माइक्रोएसडी कार्ड को सपोर्ट करता है।
 
xiaomi

फोन में 4100 एमएएच की बैटरी है जो रेडमी नोट 3 की 4050 एमएएच की बैटरी की तुलना में थोड़ी ही बड़ी है। इसमें एफ/2.0 अपर्चर, फेज़ डिटेक्शन ऑटो फोकस से लैस 13 मेगापिक्सल का कैमरा है। फ्रंट पैनल पर 5 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है। 4जी के साथ वॉयस ओवर एलटीई के लिए सपोर्ट मौज़ूद है, आप कॉल क्वालिटी से संतुष्ट रहेंगे।

रेडमी नोट 4 एंड्रॉयड 6.0.1 मार्शमैलो पर आधारित मीयूआई 8 पर चलेगा। शाओमी ने कई नए फ़ीचर जोड़े हैं। इनमें से एक नाउ ऑन टैप है जो एंड्रॉयड मार्शमैलो के अहम फ़ीचर में से है। गूगल के नाउ ऑन टैप को आप किसी भी ऐप के अंदर होम बटन को लंबे समय तक दबाकर एक्टिव कर सकते हैं। रेडमी नोट 4 में मौज़ूद मीयूआई 8 बेहद ही लाइट और पुराने वर्ज़न की तुलना में ज़्यादा पॉलिश्ड लगता है।

मीयूआई 8 अब नए गैलरी ऐप के साथ आता है जो अपने आप ही डिवाइस से तस्वीरों को मी क्लाउड पर स्टोर कर देता है। यूज़र को अकाउंट के लिए साइन अप पर 5 जीबी मुफ्त क्लाउड स्टोरेज मिलेगी। क्विक बॉल फ़ीचर भी रेडमी नोट 4 में मौज़ूद है।

निज़ता को ध्यान में रखते हुए शाओमी ने डुअल ऐप्स और सेकेंड स्पेस फ़ीचर दिए हैं। स्क्रॉलिंग स्क्रीनशॉट इस सॉफ्टवेयर की एक और अहम खासियत है। इसकी मदद से यूज़र पूरे वेब पेज का स्क्रीनशॉट ले सकते हैं। शाओमी ने डायलर ऐप पर भी काम किया है। यह पहले की तुलना में हल्का और इस्तेमाल करने में आसान है।
 
xiaomi

शाओमी ने हैंडसेट में वन-हैंड मोड दिया है। जो डिस्प्ले को छोटा करके स्क्रीन के एक किनारे पर कर देता है। आप 3.5, 4 और 4.5 इंच स्क्रीन साइज़ में से चुन पाएंगे। शाओमी रेडमी नोट 4 में पहले से कई ऐप इंस्टॉल रहते हैं। अफसोस यह कि आप उन्हें हटा नहीं सकते। हमारा मानना है कि शाओमी को पहले से इंस्टॉल किए गए ऐप की संख्या कम करनी चाहिए।

शाओमी रेडमी नोट 4 परफॉर्मेंस
शाओमी रेडमी नोट 4 ने आसानी से किसी भी काम को किया। हमें ऑक्टा-कोर प्रोसेसर से शिकायत नहीं हुई। ज़्यादा पावरफुल ग्राफिक्स वाले असफाल्ट 9 और डेड ट्रिगर 2 जैसे गेम को इस हैंडसेट पर खेलने में मज़ा आया। हमने रेडमी नोट 4 को कई हफ्तों तक इस्तेमाल किया और हमें कभी भी और ज़्यादा पावरफुल प्रोसेसर की ज़रूरत नहीं हुई। रेडमी नोट 4 में मल्टीटास्किंग करना आसान था। बिना किसी देरी से ऐप लॉन्च हुए।

रेडमी नोट 4 मीडिया प्लेबैक के लिए बेहतरीन है और श्रेय आईपीएस डिस्प्ले को जाता है। यह 4के रिज़ॉल्यूशन वाले वीडियो को सपोर्ट करता है। निचले हिस्से में मौज़ूद स्पीकर से ठीक-ठाक आवाज़ आई। शाओमी ने हमें रिव्यू यूनिटके साथ कोई ईयरफोन नहीं दिया था। ऐसे में हमने अपने निजी ईयरफोन से इसकी ऑडियो क्वालिटी की जांच की और हम इससे संतुष्ट हुए। बेंचमार्क टेस्ट में हमारी उम्मीद के मुताबिक नतीजे आए। लेकिन बता दें कि रेडमी नोट 3 (रिव्यू) ने इन टेस्ट में ज़्यादा बेहतर नतीजे दिए थे।

कैमरा ऐप में ब्यूटीफाई, पनोरमा और मैनुअल जैसे मोड मिलेंगे। सीन मोड में यूज़र को पोर्ट्रेट, लैंडस्केप, स्पोर्ट्स, नाइट, बीच और फ्लावर जैसे विकल्प मिलेंगे। आप तस्वीर खींचने वक्त भी फिल्टर को काम में ला सकते हैं जो अच्छा है। कैमरा 1080 पिक्सल रिज़ॉल्यूशन तक के वीडियो रिकॉर्ड कर सकता है और इनकी क्वालिटी काफी अच्छी है। रेडमी नोट 4 से ली गई सेल्फी अच्छे कलर और डिटेल के साथ आए। हालांकि, दिन के उजाले और कम रोशनी में ली गई तस्वीरों की क्वालिटी में बहुत फ़र्क है।
 
camera
camera
camera
camera

13 मेगापिक्सल के रियर कैमरे ने अच्छे लैंडस्कैप शॉट लिए। ऐसा हर परिस्थिति में हुआ। मैक्रोज़ शॉट भी अच्छे आए। इनमें कलर सटीक थे और डिटेल की भी कोई कमी नहीं थी। पीडीएएफ फ़ीचर की मदद से कैमरा तेजी से फोकस करता है। कम रोशनी वाले शॉट में भी डिटेल की कोई कमी नहीं है, लेकिन उन्हें ज़ूम इन करने पर आप ग्रेनिनेस देख पाएंगे। रेडमी नोट 4 ने चलायमन ऑब्जेक्ट भी अच्छी तस्वीरें ली।

शाओमी ने इस बार रेडमी नोट 4 में कैमरा क्वालिटी बेहतर करने पर ध्यान केंद्रित किया है। याद रहे कि पिछले साल वाले मॉडल में कैमरा क्वालिटी को लेकर काफी शिकायतें आई थीं। अच्छी बात है कि सुधार हुआ है। हालांकि, हम कम रोशनी में और बेहतर परफॉर्मेंस की उम्मीद कर रहे थे।

4100 एमएएच की बैटरी वीडियो लूप टेस्ट में 15 घंटे 10 मिनट तक चली। यह इस क्षमता की बैटरी के लिए बेहतरीन है। आम इस्तेमाल में फोन की बैटरी दो दिन तक चली। ज़्यादा इस्तेमाल करने पर करीब 30 घंटे। कमज़ोर मोबाइल या वाई-फाई नेटवर्क में हैंडसेट की कनेक्टिविटी क्षमता वाकई में सराहनीय है। हमें रिव्यू के लिए हैंडसेट का रिटेल बॉक्स नहीं दिया गया था। इसलिए हम फोन की बैटरी को चार्ज होने में लगने वाले वक्त पर कुछ नहीं कहेंगे। हालांकि, इसमें क्विक चार्जिंग के लिए सपोर्ट नहीं है जो प्राइस रेंज में स्वागत योग्य फ़ीचर होता।

हमारा फैसला
रेडमी नोट 4 एक बेहतरीन पैकेज है। लेकिन हाइब्रिड सिम स्लॉट, क्विक चार्जिंग सपोर्ट का ना होना और बहुत ज़्यादा प्रीलोडेड ऐप्स जैसी कमियां खटकती हैं। हमारा मानना है कि रेडमी नोट 4 अपने सेगमेंट या थोड़े महंगे रेंज वाले स्मार्टफोन को मज़बूत चुनौती देगा। डिज़ाइन, बैटरी लाइफ और परफॉर्मेंस के मामले में यह फोन चैंपियन है। जिन यूज़र को बजट में बड़े डिस्प्ले और अच्छी बैटरी लाइफ वाला फोन चाहिए, उनके लिए रेडमी नोट 4 अच्छा विकल्प है।

शाओमी रेडमी नोट 4 को तीन वेरिएंट में लॉन्च किया गया है। कीमत 9,999 रुपये (2 जीबी रैम + 32 जीबी स्टोरेज) से शुरू होती है। रेडमी नोट 4 हर हाल में उन ग्राहकों को भाएगा जो सस्ते में अच्छी परफॉर्मेंस वाला हैंडसेट चाहते हैं। वैसे, रिव्यू महंगे वाले वेरिएंट पर आधारित है और तीनों वेरिएंट की कीमतों में अंतर को देखते हुए हम यही कहेंगे कि अगर संभव हो तो सबसे सस्ते वाले वेरिएंट को नज़रअंदाज़ करें। 3 जीबी रैम और 32 जीबी स्टोरेज वाला वेरिएंट 10,999 रुपये में मिलेगा, यानी सिर्फ 1,000 रुपये महंगा। हमारे द्वारा रिव्यू किया गया वेरिएंट मार्केट में 12,999 रुपये में मिलेगा।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी

डिस्प्ले

5.50 इंच

बैटरी क्षमता

4100 एमएएच

प्रोसेसर

2 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर

फ्रंट कैमरा

5 मेगापिक्सल

रिज़ॉल्यूशन

1080x1920 पिक्सल

रैम

4 जीबी

ओएस

एंड्रॉ़यड 6.0

स्टोरेज

64 जीबी

रियर कैमरा

13 मेगापिक्सल
केतन प्रताप गैजेट्स 360 के लिए केतन प्रताप ख़बरों के खिलाड़ी हैं। केतन ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन से अंग्रेजी पत्रकारिता की पढ़ाई ... और भी »

संबंधित ख़बरें

 
 
 
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।