शाओमी रेडमी 4 का रिव्यू

 
शाओमी रेडमी 4 का रिव्यू

ख़ास बातें

  • भारत में रेडमी 4 के तीन वेरिएंट लॉन्च हुए हैं
  • डिवाइस की ओवरऑल परफॉर्मेंस अच्छी है
  • गैज़ेट्स 360 ने इस फोन को 10 में से 8 रेटिंग दी है
शाओमी रेडमी 4 स्मार्टफोन 10,000 रुपये से कम वाले सेगमेंट में कंपनी का लेटेस्ट स्मार्टफोन है। प्रीमियम स्मार्टफोन से अलग, बजट स्मार्टफोन कम समय तक टिकते हैं और रेडमी सीरीज़ इसका सबसे बेहतर उदाहरण है। शाओमी रेडमी 3एस (और रेडमी 3एस प्राइम) पिछले साल अगस्त में भारत में लॉन्च हुआ था और कंपनी का दावा है कि यह ऑनलाइन सबसे ज़्यादा बिकने वाला स्मार्टफोन है। कंपनी ने नौ महीनों में इस फोन की चालीख लाख यूनिट बेचीं। अब नया शाओमी रेडमी 4 लोकप्रिय रेडमी 3एस (और रेडमी 3एस प्राइम) की जगह लेगा।

शाओमी ने रेडमी सीरीज़ के साथ सफलता के नए आयाम स्थापित किए हैं, और बजट स्मार्टफोन की हमारी अधिकतर लिस्ट में ये शामिल रहे। नया रेडमी स्मार्टफोन ना केवल बाज़ार में प्रतिद्वंदता तेज करेगा, बल्कि इस पर अपने पिछले वेरिएंट को दोहराने का दबाव भी होगा। और स्पेसिफिकेशन की बात करें तो यह निश्चित तौर पर एक अपग्रेडेड वेरिएंट है। आइये जानते हैं नए शाओमी रेडमी 4 कीमत के लिहाज़ से उम्मीदों पर खरा उतरता है या नहीं?


शाओमी रेडमी 4 डिज़ाइन
जब हमने अपने दफ्तर में रेडमी 4 को पहली बार देखा, हमने इसे रेडमी 4 के 'लाइट' या छोटा वेरिएंट समझने की गलती की। इन दोनों फोन का डिज़ाइन काफ़ी हद तक एक जैसा है। रेडमी 4 के प्री लॉन्च इवेंट में शाओमी के प्रोडक्ट मैनेजर, जय मणि ने गैज़ेट्स 360 को बपताया कि रेडमी 4 का लुक, बड़े शाओमी रेडमी नोट 4 (रिव्यू) से प्रेरित है। रेडमी 4 का ऑल-मेटल रियर पॉलिश्ड है और पिछले वेरिएंट से यह फोन ज़्यादा प्रीमियम लगता है। हालांकि, इससे फोन के फिसलने का डर रहता है और हमारे रिव्यू के दौरान फोन से तस्वीरें लेने की कोशिश में यह कई बार गिरने से बचा।

रेडमी सीरीज़ के बेसिक फॉर्मूला में बहुत बड़ा बदलाव नहीं किया गया है। रेडमी 3एस की तरह ही, रेडमी 4 में 5 इंच स्क्रीन है। नया मॉडल हालांकि 8.65 मिलमीटर मोटाई के साथ थोड़ा मोटा लगता है और इसका वज़न 150 ग्राम है। रेडमी 3एस की मोटाई 8.5 मिलीमीटर थी और इसका वज़न 144 ग्राम। कुल मिलाकर, मोटाई या वज़न में बढ़ोत्तरी के बावज़जूद रेडमी 4 बहुत बदला नहीं है क्योंकि फोन को एक हाथ से इस्तेमाल करना आसान है।
 
xiaomi

हमें कभी भी फिंगरप्रिंट सेंसर को इस्तेमाल करने में दिक्कत नहीं हुई। फोन में रियर पर सिर्फ एक मी लोगो है, लेकिन छोटे-छोटे अक्षरों में 'शाओमी द्वारा डिज़ाइन किया गया/भारत में बनाया गया' लिखा गया है। हमें कैमरा लेंस के चारों तरफ़ दी गई एक प्रोटेक्टिव रिंग पसंद आई।

फोन में दांयीं तरफ़ पावर और वॉल्यूम बटन हैं। और एक हाथ से इस्तेमाल के दौरान फोन को इस्तेमाल करने के लिए आसानी से पहुंच में आते हैं। फोन में चार्जिंग और डेटा ट्रांसफर करने के लिए नीचे की तरफ़ एक माइक्रो-यूएसबी पोर्ट दिया गया है। दूसरी तरफ ग्रिल हैं, हालांकि इनमें से सिर्फ एक स्पीकर है। ऊपर की तरफ़ एक 3.5 एमएम ऑडियो जैक और इन्फ्रारेड अमीटर है।

फोन में स्क्रीन के बिल्कुल नीचे नेविगेशन बटन हैं लेकिन ये बैकलिट नहीं हैं, जिसका मतलब है कि इन्हें अंधेरे में इस्तेमाल करना मुश्किल होगा। होम बटन के ठीक नीचे एक नोटिफिकेशन एलईडी है और आने वाली नोटिफिकेशन के लिए यूज़र को अलर्ट करने के लिए चमकदार है। दूसरे रेडमी स्मार्टफोन की तरह ही, नया रेडमी 4 स्मार्टफोन एक डुअल-सिम ट्रे के साथ आता है, जिसका मतलब हरै कि यूज़र दो सिम कार्ड और एक सिम कार्ड या एक माइक्रोएसडी कार्ड को एक साथ इस्तेमाल कर पाएंगे। रेडमी 4 स्मार्टफोन शैंपेन गोल्ड और मैट ब्लैक कलर वेरिएंट में मिलेगा। और हमें रिव्यू के लिए मैट ब्लैक कलर मिला।

फोन के साथ रिटेल बॉक्स में दिशा-निर्देश पुस्तिका, एक डेटा केबल, एक पावर अडेप्टर और एक सिम प्रोजेक्टर टूल मिलेगा।

शाओमी रेडमी 4 स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
शाओमी रेडमी 4 में 5 इंच एचडी (720x1280) आईपीएस डिस्प्ले है जो 2.5डी कर्व्ड-एज ग्लास के साथ आता है। ऐसा लगता है कि शआओमी ने 10,000 रुपये से कम वाले एक रेडमी स्मार्टफोन में पहली बार 2.5डी ग्लास का इस्तेमाल किया है। फोन में 4100 एमएएच की नॉन-रिमूवेबल बैटरी है। कंपनी ने पिछले रेडमी 3एस स्मार्टफोन में भी इसी क्षमता वाली बैटरी का इस्तेमाल किया था और इसे फोन की सबसे बड़ी ख़ासियत बताया जा रहा है। फोन में एक ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 435 प्रोसेसर है जो 1.4 गीगाहर्ट्ज़ पर चलता है। रेडमी 4 के तीन वेरिएंट हैं- 2 जीबी रैम/16 जीबी स्टोरेज, 3 जीबी रैम/32 जीबी स्टोरेज और 4 जीबी रैम/64 जीबी स्टोरेज दी गई है। हमारी रिव्यू यूनिट 3 जीबी रैम/ 32 जीबी स्टोरेज वाली थी। रेडमी 4 की स्टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 128 जीबी तक बढ़ाई जा सकती है।

इस फोन में अपर्चर एफ/2.0, पीडीएएफ और एक एलईडी फ्लैश के साथ 13 मेगापिक्सल का रियर कैमरा है। सेल्फी के लिए फोन में अपर्चर एफ/2.2 के साथ एक 5 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। नया रेडमी 4  स्मार्टफोन 4जी और वीओएलटई जैसे कनेक्टिविटी फ़ीचर सपोर्ट करेगा। एक साथ दो सिम कार्ड इस्तेमाल करने पर, सिर्फ प्राइमरी स्लॉट पर ही 4जी कॉल और डेटा चलेगा जबकि सेकेंडरी सिम स्लॉट 2जी ही सपोर्ट करेगा।
 
xiaomi

यह फोन एंड्रॉयड 6.0.1 मार्शमैलो पर चलता है जिसके ऊपर शाओमी की मीयूआई 8.2 स्किन है। यह एक स्टेबल बिल्ड है जिसे हमने रेडमी नोट 4 और रेडमी 4ए में देखा था। जिसका मतलब है कि रेडमी 4 में कई सारे सॉफ्टवेयर फ़ीचर हैं जिन्हें हमने पहले ही देखा है। इनमें डुअल ऐप्स भी शामिल है जिससे फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, व्हाट्सऐप या किसी और ऐप के दो अकाउंट चला जा सकते हैं। वन हैंडेड मोड से डिस्प्ले को एक कोने में श्रिंक किया जा सकता है, जिससे सब कुछ आसानी से पहुंच में आ जाता है। फोन में एक स्क्रॉलिंग स्क्रीनशॉट फ़ीचर भी है जिससे पूरे वेब पेज का स्क्रीनशॉट लिया जा सकता है। चाइल्ड मोड से यूज़जर ऐप लॉक कर सकते हैं, और सेकेंड स्पेस से यूज़र को एक ही डिवाइस पर बिज़नेस व निज़ी डेटा को अलग रखने के लिए दो प्रोफाइल बनाने का फ़ीचर मिलता है।

मीयूआई स्किन स्पष्ट दिखती है और पिछले वर्ज़न से ज़्यादा पॉलिश्ड है। आप सॉफ्टवेयर के बारे में विस्तृत जानकारी हमारे पिछले शाओमी रेडमी नोट 4 और शाओमी रेडमी 4ए के रिव्यू में पढ़ सकते हैं।

पिछले रेडमी फोन की बात करें तो, रेडमी 4 में कई सारे ऐप पहले से इंस्टॉल आते हैं जैसे म्यूज़िक, मी पिक्स, मी कम्युनिटी, न्यूज़, सिक्योरिटी, नोट्स, रिकॉर्डर और वेदर। थीम ऐप के जरिए यूज़र एक स्टोर से थीम, वॉलपेपर, रिंगटोन और फॉन्ट सेलेक्ट कर सकते हैं। डिवाइस में एक मी स्टोर ऐप भी है जिसके जरिए शाओमी प्रोडक्ट और एक्सेसरी खरीद सकते हैं। हमें लगता है कि मीयूआई इंटरफेस हल्का हो सकता है अगर इसमें इतने ज़्यादा ऐप ना होते। लेकिन इनमें से सबको डिलीट नहीं किया जा सकता और ये डिवाइस में काफ़ी स्टोरेज की खपत करते हैं। फोन में कुछ थर्ड-पार्टी ऐप पहले से इंस्टॉल आते हैं जैसे कि अमेज़न, फोनपे वॉलेट, फ्लिपकार्ट, फेसबुक और स्विफ्टकी।

मी अकाउंट के साथ साइन इन करने पर यूज़र को मी क्लाउड स्टोरेज की 5 जीबी स्टोरेज मुफ्त मिलेगी। यह स्टोरेज गूगल द्वारा जीमेल साइन इन करने पर दी जाने वाली 15 जीबी मुफ्त क्लाउड स्टोरेज से अलग है।
 
xiaomi

रेडमी 4 स्मार्टफोन एंड्रॉयड 7.0 नूगा पर नहीं चलता और ना ही रिव्यू के समय गूगल असिस्टेंट को सपोर्ट करता है, जिससे हमें निराश हुई। होम बटन को देर तक दबाने पर, नाउ ऑन टैप फ़ीचर आधारित सर्च बॉक्स खुल जाता है। शाओमी का कहना है कि रेडमी 4 में एंड्रॉयड नूगा के लिए अपडेट मिलेगा। और उससे पहले गूगल असिस्टेंट मिल सकता है लेकिन कंपनी ने किसी तारीख का वादा नहीं किया है।

शाओमी रेडमी 4 कैमरा
13 मेगापिक्सल का रियर कैमरा फोकस तेजी से करता है और इसका श्रेयय फेज़ डिटेक्शन ऑटोफोकस फ़ीचर को जाता हरै। कैमरा ऐप में एक फेस रिकग्निशन फ़ीचर है जो आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है। रेडमी 3एस प्राइम से तुलना करें तो, हमें रेडमी 4 का ऑटोफोकस ज़्यादा तेज लगा। कैमरे से आने वाली तस्वीरें डिटेलयुक्त और शार्प आती हैं, जबकि कलर वाइब्रेंट रहे। लैंडस्केप तस्वीरों में अधिकतर समय कलर सटीक रहते हैं।

लेकिन, एचडीआर मोड को ऑन करने पर तस्वीरें बेहद धीमे कैद और प्रोसेस होती हैं और डिवाइस से हमें यह बड़ी शिकायत है। एचडीआर मोड ऑन रहने पर यूज़र को अच्छी तस्वीर के लिए अपने हाथ को स्थिर रखना पड़ता है।

रियर कैमरे से कम रोशनी में तस्वीरें लेने पर बहुत नॉयज़ दिखता है। कम रोशनी में लिए गए कुछ शॉट बेहद खराब आए। रात में रेडमी 4 से अच्छी तस्वीरें आती हैं लेकिन सिर्फ तब जबकि सब्जेक्ट के पास अच्छी रोशनी हो।
 
xiaomi
xiaomi
xiaomi
xiaomi

रेडमी 4 का कैमरा ऐप साधारण है और इसे इस्तेमाल करना आसान है। ऐप में कई सेटिंग और फ़ीचर हैं। एचडीआर मोड सिर्फ एक टैप पर लॉन्च हो जाता है। फोन में लाइव फिल्टर हैं। फोन से 720 पिक्सल और 1080 पिक्सल तक की वीडियो रिकॉर्ड की जा सकती है और वीडियो क्वालिटी भी शानदार रहती है।

रेडमी 4 से आने वाली सेल्फी ठीकठाक रहती है। लेकिन इमेज धीरे प्रोसेसर होती है। जल्दी सेल्फी लेने की चाहत में हम कई बार धुंधली सेल्फी ले बैठे।

कुल मिलाकर, शाओमी रेडमी 4 का कैमरा पिछले रेडमी 3एस प्राइम (रिव्यू) से ज़्यादा बेहतर है अगर फोकस और परफॉर्मेंस को देखें तो। कैमरे में कम रोशनी में खराब क्वालिटी और एचडीआर मोड में धीमे प्रोसेसिंग जैसी समस्या है। हमें उम्मीद है कि अपडेट के साथ ये समस्या सुलझेगी।

शाओमी रेडमी 4 परफॉर्मेंस
शाओमी रेडमी 4 की सामान्य परफॉर्मेंस शानदार रही और डिवाइस ने अधिकतर काम आसानी से किए। मीयूआई इंटरफेस कई बार सुस्त लगता है लेकिन ऐप परफॉर्मेंस इससे प्रभावित नहीं होती। फोन में एसफाल्ट 8 और कट द रोप 2 जैसे गेम हमने आसानी से खेल। रिव्यू के दौरान हमें फोन में कोई बड़ी समस्या नहीं दिखी। ना ही फोन जरूरत से ज़्यादा गर्म हुआ।

हमने 3 जीबी रैम वाली यूनिट का रिव्यू किया और हमें फोन में सिर्फ 1.2 जीबी मेमोरी ही खाली मिली। जिसका मतलब है कि 2 जीबी रैम वेरिएंट वाले शाओमी रेडमी 4 में मल्टी-टास्किंग में समस्या हो सकती है। 1 जीबी के करीब मेमोरी ही खाली होने पर भी हमें फोन धीमा नहीं लगा। लेकिन हम आपको थोड़े ज़्यादा पैसे खर्च कर 4 जीबी रैम वेरिएंट लेने की सलाह देंगे।

फोन में वॉयस क्वालिटी शानदार रही और फोन वीओएलटीई सपोर्ट करता है। फोन के साथ हेडसेट नहीं मिलता इसलिए हमने अपने ईयरफोन को टेस्ट किया जिससे मिली साउंड क्वालिटी ने हमें प्रभावित किया।
 
xiaomi

5 इंच आईपीएस डिस्प्ले चमकदार है और टेक्स्ट शार्प दिखता है। स्क्रीन क्रिस्प है जो शानदार व्यूइंग एंगल से लैस है। हालांकि, रेडमी फोन में दिखा यह अब तक का सबसे  बेहतर एचडी डिस्प्ले नहीं है। कलर रीप्रोडक्शन बढ़िया रहा, लेकिन हमारी सलाह में इस मामल में रेडमी 3एस बेहतर साबित हुआ। स्क्रीन को सीधे सूरज की रोशनी में पढ़ा और इस्तेमाल किया जा सकता है। फोन में 5 इंच डिस्प्ले के साथ मूवी देखना और गेम खेलना अच्छा अनुभव रहता है। फोन में एक रीडिंग मोड है।

फोन से बेंचमार्क टेस्टिंग में अच्छा स्कोर किया। इस फोन से हमें स्नैपड्रैन 430 प्रोसेसर वाले स्मार्टफोन जैसे आंकड़े मिले।

रेडमी 4 स्मार्टफोन की बैटरी ने हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में 14 घंटे और 20 मिनट तक साथ दिया, जो अच्छा है। हम बैटरी लूप टेस्ट में मिली परफॉर्मेंस का क्रेडिट लो-एचडी रिज़ॉल्यूशन वाले स्क्रीन को देंगे। रेगुलर इस्तेमाल के साथ, बैटरी पूरे एक दिन तक चली। फोन में एक पावर सेविंग मोड है जिससे फोन को एक बार चार्ज कर देर तक चलाने में मदद मिलती है। फोन के साथ तेज चार्जिंग करने वाला अडेप्टर नहीं आता लेकिन शाओमी के जय मणि ने हमें बताया कि फोन फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करता है। हमें उम्मीद है कि शाओमी रेडमी 4 के लिए भी एक फास्ट चार्जिंग अडेप्टर को अतिरिक्त एक्सेसरी के तौर पर बेचेगी, या फिर आप थर्ड पार्टी से खरीद सकते हैं।

हमारा फैसला
पहले भी, शाओमी के रेडमी स्मार्टफोन ने इस प्राइस सेगमेंट में दूसरे स्मार्टफोन के लिए स्टैंडर्ड तय किए हैं। और रेडमी सीरीज़ ने एक बजट स्मार्टफोन की क्षमता को सबके सामने रखा। रेडमी 4 के लिए भी यही बात लागू होती है। शाओमी का लेटेस्ट एंट्री लेवल रेडमी परफॉर्मेंस, बैटरी लाइफ और डिज़ाइन के हिसाब से परफेक्ट पैकेज़ है। कैमरा क्वालिटी एक ऐसी चीज है जिसमें फोन निराश करता है, लेकिन इस कीमत वाले फोन से बहुत ज़्यादा उम्मीद रखना बेकार है।

शाओमी रेडमी 4 कुछ समय बाद रेडमी 3एस (और रेडमी 3एस प्राइम) की जगह ले लेगा और 10,000 रुपये से कम कैटेगरी का मुख्य फोन रहेगा। कंपनी ने 2 जीबी रैम/16 जीबी स्टोरेज की  कीमत 6,999 रुपये, 3 जीबी रैम/32 जीबी स्टोरेज की कीमत 8,999 रुपये और 4 जीबी रैम/64 जीबी स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 10,999 रुपये रखी है। मिडल वर्ज़न की बात करें तो हमें हर समय 1.28 जीबी मेमोरी खाली मिली। हम लोगों को थोड़े महंगे लेकिन ज़्यादा स्टोरेज वाले वेरिएंट को खरीदने की सलाह देंगे। रेडमी 4 स्मार्टफोन की टक्कर सैमसंग गैलेक्सी जे2 (2016), लेनोवो के6 पावर (रिव्यू), ओप्पो ए37 से होगी। लेकिन इसको सबसे ज़्यादा चुनौती शाओमी के अपने ही रेडमी नोट 4 से मिलेगी, जिसमें ज़्यादा बेहतर प्रोसेसर, बड़ा स्क्रीन और ज़्यादा बेहतर कैमरा दिया गया है।

इन स्मार्टफोन की उपलब्धता एक बड़ा मुद्दा है। पिछले रेडमी 3एस (रेडमी 3एस प्राइम), रेडमी 4ए और रेडमी नोट 4 स्मार्टफोन को स्टॉक में खरीदना बेहद मुश्किल रहा है। जबकि इन स्मार्टफोन को फ्लिपकार्ट और कंपनी के मी ऑनलाइन स्टोर पर बेचा जाता रहा है।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी

डिस्प्ले

5.00 इंच

बैटरी क्षमता

4100 एमएएच

प्रोसेसर

1.4 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर

फ्रंट कैमरा

5 मेगापिक्सल

रिज़ॉल्यूशन

720x1280 पिक्सल

रैम

3 जीबी

ओएस

एंड्रॉ़यड 6.0.1

स्टोरेज

32 जीबी

रियर कैमरा

13 मेगापिक्सल
केतन प्रताप गैजेट्स 360 के लिए केतन प्रताप ख़बरों के खिलाड़ी हैं। केतन ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन से अंग्रेजी पत्रकारिता की पढ़ाई ... और भी »

संबंधित ख़बरें

 
 
 
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।