वीवो वी5 प्लस का रिव्यू

 
वीवो वी5 प्लस का रिव्यू
वीवो ने मेनस्ट्रीम सेगमेंट का हमेशा से ध्यान रखा है और कंपनी ने पिछले कुछ समय में 20,000 रुपये से कम में कई फोन लॉन्च किए हैं। बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स के स्वामित्व वाली वीवो ने प्रीमियम और पावर-यूज़र के लिए ओप्पो और वनप्लस जैसे ब्रांड का इस्तेमाल किया है। 27,980 रुपये वाले वीवो वी5 प्लस के साथ वीवो इस सेगमेंट में नए आयाम स्थापित करना चाहती है।

इस कीमत के साथ, निश्चित तौर पर वीवो वी5 प्लस स्मार्टफोन वनप्लस 3टी को चुनौती दे रहा है। ये दोनों स्मार्टफोन जहां अलग-अलग कैटेगरी में आते हैं। वहीं यूज़र के लिए यह चुनाव करना मुश्किल है कि कौन सा डिवाइस वेल्यू के हिसाब से ज्यादा बेहतर है। वीवो वी5 प्लस एक 'अल्टीमेट' सेल्फी स्मार्टफोन है लेकिन क्या इसमें वो सब कुछ है जिससे यह एक फ्लैगशिप-स्तर के फोन की जगह ले सके? वी5 प्लस के रिव्यू में जानें।


वीवो वी5 प्लस का डिज़ाइन और बनावट
वीवो वी5 प्लस का डिज़ाइन हमारे द्वारा रिव्यू किए गए वीवो वी5 के डिज़ाइन से बहुत ज्यादा अलग नहीं है। फोन में स्क्रीन के नीचे दिए गए एक होम बटन में ही फिंगरप्रिंट सेंसर इंटीग्रेटेड है और ऊपर की तरफ एक सेंसर, नोटिफिकेशन एलईडी और एक फिल लाइट है। यह किसी से छिपा नहीं है कि वीवो और ओप्पो ऐप्पल के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर डिज़ाइन की नकल करना पसंद करते हैं और अपने लेटेस्ट वेरिएंट में भी वीवो ने इसे जारी रखा है। वीवो वी5 प्लस में दिए गए एंटीना बैंड बिल्कुल नए आईफोन 7 की तरह दिखते हैं। फुल मेटल से बना रियर काफी स्थायी है और हमें फोन का  सॉफ्ट गोल्ड फिनिश पसंद आया। चेसिस और बटन की फिनिश प्रीमियम अहसास देती है और हमें यहां कंपनी से कोई शिकायत नहीं है।

फोन में बांयीं तरफ सिम ट्रे है जिसमें दो नैनो-सिम कार्ड इस्तेमाल किए जा सकते हैं। हालांकि, यह हाइब्रिड सिम कार्ड नहीं है और इसमें माइक्रोएसडी कार्ड के लिए कोई अलग स्लॉट नहीं है। नीचे की तरफ एक माइक्रो-यूएसबी पोर्ट, हेडफोन जैक और स्पीकर है। वीवो वी5 प्लस की ग्रिप अच्छी है और 158 ग्राम वज़न के साथ यह हल्का लगता है।
 
Vivo

वीवो वी5 प्लस में दिया गया 5.5 इंच आईपीएस डिस्प्ले ब्राइट है और टच रिस्पॉन्स भी अच्छा है। फुल एचडी रिज़ॉल्यूशन के चलते शार्पनेस भी अच्छी है। सेटिंग ऐप में कलर करेक्शन का विकल्प नहीं है लेकिन आपको एक आई-प्रोटेक्शन मोड मिलेगा। कलर सैचुरेशन अच्छा है और डिस्प्ले की सुरक्षा के लिए कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 दिया गया है।

बॉक्स में, आपको एक 18वाट/10वाट का अडेप्टर, डेटा केबल, हेडसेट, केस, स्क्रीन गार्ड और सिम इजेक्टर टूल मिलेगा। कुल मिलाकर, वीवो वी5 प्लस डिज़ाइन और बनावट में इस सीरीज़ के पिछले स्मार्टफोन की तरह ही बेहतर स्कोर करता है। हालांकि, फोन में पर्याप्त इनबिल्ट स्टोरेज दी गई है और एक्सपेंडेबल स्टोरेज की कमी कुछ यूज़र को निराश कर सकती है।

वीवो वी5 प्लस स्पेसिफिकेशन
वीवो वी5 प्लस में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर, 4 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज दी गई है। हालांकि, हम इसे आकर्षक तो नहीं  सकते क्योंकि शाओमी ने रेडमी नोट 4 (रिव्यू) को इससे आधी कीमत में इसी स्पेसिफिकेशन के साथ लॉन्च किया है।

इसके अलावा, वीवो वी5 प्लस में ब्लूटूथ 4.0, डुअल-बैंड वाई-फाई बी/जी/एन, जीपीएस और यूएसबी-ओटीजी दिए गए हैं। बेहतर साउंड क्वालिटी के लिए फोन में एक एके4376 ऑडियो डैक है। फोन में एनएफसी, वाई-फाई 802.11एसी या एफएम रेडियो नहीं है। फोन में नया टाइप-सी यूएसबी कनेक्टर भी नहीं है। बात करें सेंसर की तो फोन में जायरोस्कोप के साथ बाकी सभी सेंसर हैं। वीवो वी5 प्लस दोनों सिम कार्ड पर 4जी के साथ वीओएलटीई सपोर्ट करता है।
 
Vivo

वीवो वी5 प्लस एंड्रॉयड मार्शमैले 6.0.1 आधारित फनटच ओएस 3.0 पर चलता है। स्टॉक आइकन और कंट्रोल सेंटर जैसे पैनल- जिसमें नीचे से पॉप अप आता है, इन सबमें आईओएस की झलक देखी जा सकती है। फोन में गूगल के प्रीइंस्टॉल ऐप हैं इनमें डुओ भी है। इसके अलावा व्हाट्सऐप, यूसी ब्राउज़र और डब्ल्यूपीएस ऑफिस शामिल हैं। वीवो ने अपने भी कुछ ऐप जैसे थीम्स, वीवो क्लाउड और परमिशन के लिए एक मैनेजर ऐप, ऐप लॉकिंग आदि दिए हैं। आप हमारे वीवो वी5 के रिव्यू में नए वीवो वी5 प्लस के सभी जेस्चर आधारित फ़ीचर के बारे में जान सकते हैं।

अगर आप स्टॉक एंड्रॉयड के बाद इस फोन को इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको नए सॉफ्टवेयर के आदी होने में थोड़ा समय लगेगा। हमें उम्मीद थी कि वीवो वी5 प्लस नए एंड्रॉयड नूगा के साथ आएगा क्योंकि मार्शमैलो अब थोड़ा पुराना हो चुका है।

वीवो वी5 प्लस परफॉर्मेंस
स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर वाला वीवो वी5 प्लस स्मार्टफोन वीवो के भारी-भरकम एंड्रॉयड स्किन के बावज़ूद अच्छा चलता है। फोन में मल्टीटास्किंग करना आसान है और हमें एनिमेटेड गेम खेलने में भी कोई परेशानी नहीं हुई। फिंगरप्रिंट सेंसर बेहद तेजी से उंगलियों की पहचान कर लेता है और आप फोन को अनलॉक करने के अलावा इस सेंसर से ऐप भी लॉक कर सकते हैं। बेंचमार्क की बात करें तो, वीवो वी5 प्लस ने अच्छा स्कोर किया। 4के वीडियो रिकॉर्डिंग और गेम खेलने जैसे गंभीर काम करते समय भी फोन गर्म नहीं होता। ऊपर वाला हिस्सा थोड़ा गर्म होता है लेकिन वो बहुत ज्यादा नहीं है।.

प्रोसेसर, 4के वीडियो प्ले करने की क्षमता के साथ आता है और फोन में दूसरी मीडिया फाइल भी आसानी से चलती हैं। फोन में एक 'स्मार्ट स्पिलिट' मोड है जिससे आप फेसबुक, व्हाट्सऐप और फेसबुक मैसेंजर से आने वाले मैसेज को वीडियो प्लेयर से एग्ज़िट हुए बिना ही देख सकते हैं। यह मोड एमएक्स प्लेयर, यूट्यूब और गूगल प्ले मूवीज़ के साथ भी काम करता है। वीवो वी5 प्लस में दिया गया मोनो स्पीकर मीडिया के लिए ख़राब नहीं है और यह काफी तेज है लेकिन यह स्टीरियो स्पीकर जितना अच्छा नहीं है। अगर आपने वायर्ड ईयरफोन कनेक्ट किए हैं तो, म्यूज़िक और वीडियो प्लेयर ऐप में हाई-फाई आइकन का इस्तेमाल कर इनबिल्ट डैक को टॉगल ऑन या ऑफ कर सकते हैं। अगर आप वीवो वी5 प्लस के साथ आने वाले हेडसेट को देखें तो इन पर ऐप्पल का प्रभाव साफ दिखाई देता है क्योंकि ये बिल्कुल ऐप्पल के हेडसेट की तरह दिखते हैं। हालांकि, ऑडियो क्वालिटी बिल्कुल अच्छी नहीं है।

फोन का फ्रंट कैमरा इस फोन का सबसे ख़ास हिस्सा है और अब हम इसी की बात करेंगे। वीवो वी5 प्लस में अपर्चर एफ/2.0 के साथ 20 मेगापिक्सल का सेंसर और डेप्थ के लिए एक अतिरिक्त 8 मेगापिक्सल का सेंसर दिया है। बाद वाला सेंसर बैकग्राउंड से आपको अलग कर कैमरा ऐप में बोकेह इफेक्ट को जेनरेट करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। डेप्थ-ऑफ-फील्ड इफेक्ट के हिसाब से आप अपर्चर को एडजस्ट कर सकते हैं। इफेक्ट काफी अच्छा है और 20 मेगापिक्सल के कैमरे से कम रोशनी में भी सेल्फी अच्छी डिटेलिंग के साथ आती हैं। इसके अलावा आपको ऑटो एचडीआर और फेस ब्यूटी जैसे दूसरे मोड भी मिलते हैं और अंधेरा होने पर फिल लाइट मदद करता है।
 
img
img
img
img

वी5 का रियर कैमरा काफी कमजोर था लेकिन वीवो वी5 प्लस में कंपनी ने इस समस्या को दूर कर दिया है। 16 मेगापिक्सल के सेंसर से मैक्रो और लैंडस्केप शॉट काफी डिटेलिंग के साथ आते हैं। हालांकि, हमें व्हाइट बैलेंस के साथ कुछ परेशानी हुई लेकिन ऐप अधिकतर इसे सही कर देता है। कम रोशनी में भी परफॉर्मेंस बहुत ख़राब नहीं थी और डिटेलिंग थोड़ी कम होती है और ज़ूम इन करने पर ऑब्जेक्ट थोड़ा बिखरा हुआ लगता है। लेकिन कुल मिलाकर पिछले वेरिएंट से परफॉर्मेंस निश्चित तौर पर सुधरी है।

4के वीडियो रिकॉर्डिंग अच्छे से होती है। वी5 में दूसरे भी पिछले वीवो फोन की तरह ही नाइट, पीपीटी, प्रो और अल्ट्रा एचडी मोड दिए गए हैं।

वीवो वी5 प्लस में 3055 एमएएच की नॉन-रिमूवेबल बैटरी दी गई है जो एक बार चार्ज करने पर आसानी से एक पूरे दिन चल जाती है। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में हम फोन को 10 घंटे और 53 मिनट तक आसानी से चला पाए, जिसे ख़राब नहीं कहा जा सकता। वीवो की 'डुअल-चार्जिंग इंजन' टेक्नोलॉजी के साथ फास्ट चार्जिंग सपोर्ट भी दिया गया है जिसमें ज्यादा करंट के लिए दो माइक्रोचिप दी गईं हैं। इसके साथ, हम डिवाइस को आधे घंटे में ही 43 प्रतिशत तक चार्ज कर सके।
 
Vivo

हमारा फैसला
चीनी स्मार्टफोन निर्माताओं ने बेहद किफ़ायती दाम में मजबूत स्पेसिफिकेशन वाले प्रोडक्ट पेश करने का ट्रेंड सेट कर दिया है। और शायद यही अब वीवो भी कर रही है। वी5 प्लस एक शानदार स्मार्टफोन है क्योंकि इसने परंपरा को तोड़ने की हिम्मत दिखाई है। हालांकि, हमें नहीं लगता कि यह फोन अपने प्रीमियम दाम के हिसाब से परफॉर्मेंस भी देता है और ख़ासतौर पर जब आपको यही सब चीजें इससे काफ़ी कम दाम में मिल जाए।

शाओमी रेडमी नोट 4 शायद सबसे बेहतर उदाहरण नहीं है क्योंकि शाओमी इसे ऑनलाइन बेचती है और इस वजह से डिस्ट्रीब्यूटर, सब-डिस्ट्रीब्यूटर, रिटेलर आदि से मुक्ति मिल जाती है जिससे कीमत कम हो जाती है। लेकिन इस सभी के साथ भी, हम यह नहीं जान सके कि वीवो वी5 प्लस की कीमत इतनी ज्यादी क्यों रखी गई है। प्रीमियम होने के बावज़ूद, वी5 प्लस में यूएसबी टाइप-सी, एनएफसी, वाई-फाई एसी, एक्सपेंडेबल स्टोरेज और एफएम रेडियो जैसे फ़ीचर नहीं हैं। एफएम रेडियो को भारत में अभी भी बहुत सारे लोग पसंद करते हैं। इसके अलावा, अगर इस फोन में वनप्लस 3टी की तरह ज्यादा बेहतर चिप दिया होता तो हो सकता था कि फोन ज्यादा बेहतर होता।

इसके साथ ही सॉफ्टवेयर में भी कुछ कमियां है। जिस कीमत पर वीवो और ऐसे ही ब्राड फोन को पेश कर रहे हैं तो जल्द ही एंड्रॉयड नूगा वाले इसके अपग्रेडेड वेरिएंट को पेश किया जा सकता है। अगर आपके लिए सॉफ्टवेयर अपडेट अहमियत रखता हरै तो वनप्लस 3टी थोड़ा से ज्यादा पैसा खर्च करके ज्यादा बेहतर विकल्प रहेगा। इसमें वीवो वी5 प्लस की तरह फैंसी डुअल-कैमरा सेटअप भले ही ना हो लेकिन इससे अच्छी सेल्फी ली जा सकती हैं और यह कई मामलों में वी5 प्लस से ज्यादा बेहतर परफॉर्म करता है।

वीवो वी5 प्लस स्मार्टफोन वी-सीरीज़ में एक मजबूत फोन हो सकता था, अगर इसकी कीमत 20,000 रुपये के आसपास होती। बहरहाल, 27,980 रुपये के साथ यह एक महंगा फोन है क्योंकि इस कीमत में वनप्लस 3टी और हॉनर 8 (रिव्यू) जैसे फोन मौज़ूद हैं। लेकिन अगर आप सिर्फ अच्छी सेल्फी लेने के शौकीन हैं तो ओप्पो एफ1एस (रिव्यू) या वीवो वी5 (रिव्यू) कम कीमत में ज्यादा बेहतर परफॉर्म करते हैं।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी

डिस्प्ले

5.50 इंच

बैटरी क्षमता

3055 एमएएच

प्रोसेसर

2 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर

फ्रंट कैमरा

20 मेगापिक्सल

रिज़ॉल्यूशन

1080x1920 पिक्सल

रैम

4 जीबी

ओएस

एंड्रॉ़यड 6.0

स्टोरेज

64 जीबी

रियर कैमरा

16 मेगापिक्सल
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।
VIVO V5

संबंधित ख़बरें

 
 
 

Advertisement

VIVO V5