नोकिया 3310 भारत में लॉन्च: खरीदने और नहीं खरीदने की वज़हें

 
नोकिया 3310 भारत में लॉन्च: खरीदने और नहीं खरीदने की वज़हें
नोकिया 3310 के नए अवतार को आखिरकार भारतीय स्मार्टफोन बाज़ार में लॉन्च कर दिया गया है। और इस बात में कोई संदेह नहीं है कि जिन लोगों ने ओरिजिनल फोन इस्तेमाल किया है वो इसे लेकर बेहद उत्साहित हैं। इसके अलावा कई सारे दूसरे लोग, जो तब फोन इस्तेमाल नहीं कर पाए थे और अब नए फोन की वापसी को लेकर खुश हैं, क्योंकि फोन का डिज़ाइन, मजबूती और बैटरी लाइफ पिछले कई सालों से यादगार रहे हैं। नोकिया ब्रांड के लाइसेंस वाली एचएमडी ग्लोबल का कहना है कि नोकिया 3310 (2017) एक 'मॉडर्न ट्वि्स्ट' के साथ आता है। कंपनी ने नोकिया 3310 की कीमत ठीक रखी है और भारत में ऑफलाइन चैनल के जरिए इसे 3,310 रुपये में बेचा जाएगा। लेकिन क्या भारत में यह कीमत ओवरऑल पैकेज़ के हिसाब से है, या कंपनी का इरादा पुरानी यादों के जरिए फोन को बेचने की कोशिश का है? हम आपको उन कारणों के बारे में बताएंगे जिनसे पता चलेगा कि आखिर नया नोकिया 3310 क्यों खरीदें और क्यों ना खरीदें?

नया नोकिया 3310 क्यों खरीदें
कंपनी के एमडब्ल्यूसी 2017 इवेंट में सबसे बड़ा आकर्षण नया नोकिया 3310 रहा। और इसी इवेंट में लॉन्च हुए नए नोकिया एंड्रॉयड फोन से ज़्यादा तवज़्ज़ो इस फ़ीचर फोन को मिली। इससे पता चलता है कि ओरिजिनल फ़ीचर फोन कितना लोकप्रिय था। एक फोन जिससे सिर्फ कॉल की जा सकती है और टेक्स्ट भेजे जा सकते हैं। यहां जानें नोकिया 3310 फ़ीचर फोन को खरीदने की वजहें।

1. यादें
नोकिया 3310 (2017) में अपने पुराने वेरिएंट के डिज़ाइन से थोड़ा मिलत-जुलता है। गोल किनारे और कर्व्ड स्क्रीन विंडो, जिसे लेकर नोकिया का दावा है कि सूरज की रोशनी में बेहतर तरीके से पढ़ा जा सकेगी। इसके अलावा नए पुश बटन भी हैं। नए बदलावों के अलावा, नया नोकिया 3310 फ़ीचर फोन ने नोकिया के दीवानों की यादों को ताजा कर दिया है। अगर आपको भी फ़ीचर फोन पसंद हैं तो नया 3310 (2017) आपके लिए है।

2. बैटरी लाइफ
आज आने वाले स्मार्टफोन से तुलना करें तो, नया नोकिया 3310 कहीं टिकता नहीं है। लेकिन अगर आप बेहतरीन बैटरी लाइफ वाले एक सेकेंडरी फोन की तलाश में हैं तो आप इसे जरूर खरीद सकते हैं। फोन में एक महीने तक स्टैंडबाय बैटरी लाइफ मिल सकती है, जो आप बाज़ार में मौज़ूद किसी स्मार्टफोन से मिलना असंभव है। ओरिजिनल वेरिएंट की तरह ही, लंबी बैटरी लाइफ नए नोकिया 3310 की सबसे अहम ख़ासियत में से एक है। इस फोन में 1200 एमएएच की बैटरी है जिसके 22 घंटे तक का टॉक टाइम देने का दावा किया गया है। इसके अलावा इसमें पिन चार्जर की जगह अधिकतर एंड्रॉयड फोन की तरह माइक्रो यूएसबी फ़ीचर दिया गया है।
 
nokia

3. स्नेक गेम
नोकिया 3310 के नए वेरिएंट से ज़्यादा कुछ लोगों को पुराने स्नेक गेम की वापसी का इंतज़ार था। एचएमडी ग्लोबल ने लॉन्च इवेंट में स्नेक गेम के अपडेट के साथ आने की पुष्टि की। कंपनी ने बताया कि नए स्नेक गेम को कलर स्क्रीन के लिए ऑप्टिमाइज़ किया गया है। कंपनी के अनुसार, स्नेक गेम मैसेंजर ऐप के ज़रिए भी उपलब्ध होगा।

4. मजबूती
कई साल पहले आए ओरिजिनल नोकिया 3310 को कभी ना टूटने वाले फोन की संज्ञा दी गई थी, क्योंकि कई बार गिरने के बाद भी इसे कोई नुकसान नहीं पहुंचता था। मजबूती और भरोसे के मामले में नए फोन के भी पुराने जैसा ही होने की उम्मीद है। और वैसे भी अगर नया नोकिया 3310 किसी वजह से टूट या खो जाता है, तो आपको बहुत ज़्यादा नुकसान नहीं होने वाला।

5. ऑफलाइन उपलब्धता
हर दूसरे ब्रांड से अलग, एचएमडी ग्लोबल ने ऑफलाइन चैनल का रुख़ अख्तियार किया है। कम से कम नोकिया 3310 के नए वेरिएंट के लिए तो ऐसा ही है। इसका फायदा है कि आपको इंटरनेट पर फोन को ऑर्डर करने के बाद फिर फोन के आने का इंतज़ार नहीं करना होगा। पास के नोकिया डीलर पर जाकर आप नोकिया 3310 खरीद पाएंगे। इसके साथ ही फोन पर पैसे खर्च करने से पहले आप इसे देख और इस्तेमाल भी कर सकेंगे।


क्यों ना खरीदें नया नोकिया 3310
हो सकता है नया नोकिया 3310 आपकी पुरानी यादों को ताजा कर दे लेकिन अब समय बहुत बदल  चुका है। और कुछ कारण हैं जिनकी वजह से शायद आप नए अवतार वाले नोकिया 3310 को खरीदना ना चाहें।

1. कीमत
3,310 रुपये की कीमत के साथ, आप नोकिया 3310 से ज़्यादा फ़ीचर वाले एक स्मार्टफोन को खरीद सकते हैं। पूरे पैकेज़ को देखते हुए नोकिया 3310 भारतीय बाज़ार के हिसाब से थोड़ा महंगा लगता है, जहां इसी तरह का फ़ीचर फोन 1,000 रुपये से कम में उपलब्ध हो।

2. ना तेज इंटरनेट और ना जियो सपोर्ट
यह फोन सिर्फ 2जी कनेक्टिविटी सपोर्ट करता है जिसका मतलब है कि फोन में तेज इंटरनेट के लिए सपोर्ट नहीं मिलेगा क्योंकि इसमें 3जी या 4जी या वाई-फाई नहीं है। इसका मतलब है कि फोन रिलायंस जियो नेटवर्क को सपोर्ट नहीं करेगा जो ग्राहकों को अनलिमिटेड कॉल ऑफर करता है, और ये वाकई बुरा है।

3. ऐप सपोर्ट नहीं
इसके अलावा, नए नोकिया 3310 में किसी भी लोकप्रिय ऐप के लिए सपोर्ट नहीं मिलेगा। फोन में पहले से कुछ ऐप इंस्टॉल आते हैं लेकिन व्हाट्सऐप, फेसबुक या ट्विटर नहीं मिलेंगे। व्हाट्सऐप ने अब लगभग टेक्स्ट मैसेज की जगह ले ली है और नोकिया 3310 (2017) में इससे समझौता करना होगा।
 
nokia

4. कैमरा भूल जाइये
स्मार्टफोन के आने के साथ ही, भारतीय स्मार्टफोन बाज़ार में सेल्फी कैमरा एक बड़ा फ़ीचर है। फ्रंट कैमरा ना होने के चलते, नोकिया 3310 में एक बड़े फ़ीचर की कमी है। कैमरे की बात करें तो नए नोकिया 3310 में सिर्फ 2 मेगापिक्सल का कैमरा है जो एलईडी फ्लैश के साथ आता है, इसलिए आपकी तस्वीरें लेने कीी तमन्ना पूरी नहीं होगी।

5. कम रिज़ॉल्यूशन वाला डिस्प्ले
दो मेगापिक्सल वाला कैमरा उतनी बड़ी समस्या नहीं है जितनी की तस्वीरों को देखने के लिए एक अच्छे डिस्प्ले का ना होना है। नोकिया 3310 में 2.4 इंच क्यूवीजीए (240x320 पिक्सल) कलर डिस्प्ले है जबकि ओरिजिनल में 48x84 पिक्सल रिज़ॉल्यूशन का डिस्प्ले था। डिस्प्ले को बहुत ज़्यादा अपग्रेड किया गया है लेकिन यह मीडिया, तस्वीरों या वीडियो के लिए काम का नहीं है।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी

डिस्प्ले

2.40 इंच

बैटरी क्षमता

1200 एमएएच

फ्रंट कैमरा

नहीं

रिज़ॉल्यूशन

240x320 पिक्सल

ओएस

सीरीज 30

स्टोरेज

16 एमबी

रियर कैमरा

2 मेगापिक्सल

संबंधित ख़बरें

 
 
 
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।