Nokia 3310 (2017) का रिव्यू

 
Nokia 3310 (2017) का रिव्यू

ख़ास बातें

  • नए नोकिया 3310 का डिज़ाइन आकर्षक और मॉडर्न है
  • बैटरी लाइफ शानदार है और करीब एक हफ्त तक चल जाएगी
  • नए स्नेक गेम को खेलने में पुराने गेम जैसा बिल्कुल मज़ा नहीं आएगा
एचएमडी ग्लोबल ने एमडब्ल्यूसी 2017 ने नोकिया को वापस लाने के साथ सबसे ज़्यादा सुर्खियां बटोरीं। लेकिन 17 साल बाद नए अवतार में लॉन्च किए गए नोकिया 3310 ने पुरानी यादों को ताजा करते हुए सबके दिल जीत लिया। आज स्मार्टफोन और ऐप का ज़माना है, और हो सकता है कि फ़ीचर फोन का कोई फ़ायदा ना दिखे। क्योंकि आज हम जिन फ़ीचर को इस्तेमाल करने के आदी हो चुके हैं वो इन फ़ीचर फोन में नहीं मिलते। आज हमारी दुनिया सोशल और कम्युनिकेशन ऐप फेसबुक और व्हाट्सऐप जैसे ऐप के इर्द-गिर्द घूमती है, लेकिन नोकिया 3310 (2017) टी9 युग से है जब हमें कोई वाक्य टाइप करने के लिए नंबर वाले बटन याद करने पड़ते थे। अच्छा कहें या बुरा, लेकिन पिछले 10 सालों में बहुत कुछ बदल गया है। और हमें आश्चर्य होगा, अगर स्मार्टफोन के बीच नोकिया 3310 अपनी जगह बना लेता है।

अगर आप पुरानी यादों के शौकीन हैं, तो आपको यह फोन पहले ही आकर्षक लग सकता है। इसलिए नोकिया 3310 (2017) पहले के मुकाबले कितना बदला है, या इसमें पुराने फोन वाली सभी यादें जिंदा हैं? आइये रिव्यू में जानते हैं।


नोकिया 3310 डिज़ाइन और बनावट
नोकिया 3310 (2017) में सबसे पहले आप जिस चीज को नोटिस करेंगे वो है इसका शानदार बॉडी, ख़ासतौर पर अगर आप ग्लॉसी रेड या यलो कलर वेरिएंट देखते हैं। निश्चित तौर पर यह आंखों को लुभाता है, और आप इसके लुक के चलते ही लोगों के बीच इसे दिखाना चाहेंगे। आज के स्मार्टफोन से तुलना करें तो, हथेली के साइज़ वाला नोकिया 3310 बेहद ही पतला और 80 ग्राम वज़न के साथ हल्का भी है। जो लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं, उन्हें शुरुआत में यह बेहद छोटा लगेगा, लेकिन जल्द ही आप इसे इस्तेमाल करने के आदी हो जाएंगे।

नया नोकिया फोन नोकिया 3310 का नया अवतार है, लेकिन इसका डिज़ाइन ओरिजिनल फोन से मिलता है। और फोन का अगला हिस्सा ओरिजिनल नोकिया 3310 की तरह है, जहां पर स्क्रीन के चारों तरफ एक व्हाइट बैंड है, हालांकि स्क्रीन अब पहले से बड़ा और कलर के साथ आता है। नए फोन की बॉडी, ओरिजिनल से ज़्यादा कर्व्ड है। लेकिन नोकिया 3310 (2017) को किसी भी तरह से हूबहू पुराने फोन की तरह बनाने की कोशिश नहीं की गई है। बटन काफ़ी अलग दिखते हैं और फोन में आधुनिक नेविगेशन बटन हैं। रियर पर, आपको एक ब्रांड न्यू कैमरा और एलईडी फ्लैश मिलेगा। इसके ठीक नीचे नोकिया का लोगो है। और फोन के नीचे की तरफ़ एक 3.5 एमएम ऑडियो जैक है।
 
nokia

नया नोकिया फोन नोकिया 3310 का नया अवतार है, लेकिन इसका डिज़ाइन ओरिजिनल फोन से मिलता है। और फोन का अगला हिस्सा ओरिजिनल नोकिया 3310 की तरह है, जहां पर स्क्रीन के चारों तरफ एक व्हाइट बैंड है, हालांकि स्क्रीन अब पहले से बड़ा और कलर के साथ आता है। नए फोन की बॉडी, ओरिजिनल से ज़्यादा कर्व्ड है। लेकिन नोकिया 3310 (2017) को किसी भी तरह से हूबहू पुराने फोन की तरह बनाने की कोशिश नहीं की गई है। बटन काफ़ी अलग दिखते हैं और फोन में आधुनिक नेविगेशन बटन हैं। रियर पर, आपको एक ब्रांड न्यू कैमरा और एलईडी फ्लैश मिलेगा। इसके ठीक नीचे नोकिया का लोगो है। और नीचे की तरफ़ एक 3.5 एमएम ऑडियो जैक है।

निश्चित तौर पर, नोकिया 3310 के आज तक हमारे साथ बने रहने की सबसे मुख्य वज़ह में से एक है मजबूती। नया वेरिएंट भी काफ़ी मजबूत है और इसके गिरने पर भी आपकी दिल की धड़कनें नहीं बढ़ेंगी।

हालांकि, एचएमडी ग्लोबल का दावा है कि सूरज की रोशनी में फोन पर पढ़ना आसान है। और 2.4 इंच क्यूवीजीए (240x320 पिक्सल) डिस्प्ले पर थोड़ा रिफलेक्शन होता है। और ज़्यादा रोशनी होने पर आपको स्क्रीन पर पढ़ने के लिए बैकलाइट लेवल को औसत से ज़्यादा करना होगा। ओरिजिनल नोकिया 3310 में नए स्क्रीन की तरह कलर स्क्रीन नहीं था, लेकिन यह फ़ीचर बेहद जरूरी था और इसके चलते डिवाइस को इस्तेमाल करना आसान होता है।

आपको नए फोन में अपडेटेड नोकिया रिंगटोन मिलेगी, जिसे सुनकर आपके चेहरे पर मुस्कुराहट आ सकती है। हालांकि, पुरानी यादों की बात करें तो अंत यहीं हो जाता है।

नोकिया 3310 स्पेसिफिकेशन और फ़ीचर
फोन का यूआई नया है, लेकिन कई फ़ीचर ओरिजिनल फोन की तरह ही हैं और इन्हें समझना आसान है। मेन्यू आपको फोटोज़, म्यूज़िक प्लेयर, ओपेरा मोबाइल स्टोर, कैलेंडर, वेदर, कैलकुलेटर, एफएम रेडियो, वॉयस रिकॉर्डर जैसे ऐप मिलेंगे। इसके अलावा क्लासिक स्नेक गेम का एक नया वर्ज़न भी है। बस इतना ही कुछ ख़ास है इस फ़ीचर फोन में। और अगर आप इसे एक स्मार्टफोन के विकल्प के तौर पर देख रहे हैं, तो आपका सामना उस समय सच्चाई से होगा जब फोन इस्तेमाल करने के 5-10 मिनट बाद आपके पास करने के लिए कुछ नहीं होगा।
 
nokia

नोकिया 3310 (2017) की सबसे बड़ी ख़ासियत है बढ़िया पुराना स्नेक गेम। जी हां, लोकप्रिय स्नेक गेम की वापसी हो गई है लेकिन उम्मीद के मुताबिक एक नए अंदाज़ में। यह कलरफुल है और आकर्षक लगता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि इसे खेलने में मज़ा आएगा। और जैसी कि उम्मीद थी, नए स्नेक गेम (सभी मोड के साथ) के साथ पुराने गेम की यादें तो बिल्कुल ताजा नहीं होतीं। हमें नए गेम को खेलने में पुराने गेम की तरह संतुष्टि नहीं हुई। डेवलेपर गेमलोफ्ट ने पुराने गेम के साधारण और फिक्स्ड नेविगेशन को नए वर्ज़न में ज़्यादा बिज़ी, आधुनिक लुक के साथ बदल दिया है। गेम को मॉर्डन बनाने के चक्कर में पुराने गेम की ख़ासियतें कहीं खो सी गईं हैं। अगर आप 3310 में स्नेक गेम के चलते फोन खरीदने के लिए उत्साहित हैं तो संभव है कि आप निराश हों।

नोकिया 3310 (2017) में डुअल माइक्रो-सिम स्लॉट है और यह 32 जीबी तक के माइक्रोएसडी कार्ड को सपोर्ट करता है। फोन में 16 एमबी इंटरनल स्टोरेज है जिसमें से यूज़र के काम के लिए 1.5 एमबी ही है। इसलिए तस्वीरें या गाने स्टोर करने के लिए माइक्रोएसडी कार्ड की जरूरत पड़ेगी।

रिटेल बॉक्स में एक स्टैंडर्ड 3.5 एमएम हेडसेट है जिसे म्यूज़ुक और एफएम रेडियो सुनने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। ऑडियो क्वालिटी ठीकठाक है। हेडसेट के बिना कॉल क्वालिटी शानदार रहती है लेकिन हेडसेट के साथ आवाज़ ज़्यादा स्पष्ट आती है।
 
nokia

हमारे मुताबिक, नेविगेशन के लिए दिया गया डी-पैड, ओरिजिनल फोन में दिए गए सिंगल-एक्सिस स्क्रॉल बटन से ज़्यादा बेहतर है। आप तेजी से एसएमएस, कैलेंडर, कॉन्टेक्ट और फ्लैशलाइट जैसे ऐप एक्सेस कर सकते हैं। टी9 कीबोर्ड, ओरिजिनल की तरह ही अच्छा है, लेकिन करीब एक दशक से स्मार्टफोन इस्तेमाल करने के चलते इससे टाइपिंग करना थोड़ा परेशान कर सकता है।.

नोकिया 3310 परफॉर्मेंस, कैमरा और बैटरी लाइफ
एक फ़ीचर फोन की परफॉर्मेंस के बारे में बात करना मज़ाकिया लग सकता है, लेकिन आखिरकार यह एक मोबाइल फोन है। और फ़ीचर फोन की ख़ूबियों व कमियों के बारे में भी बात की जा सकती है, भले ही उनका यूआई सीमित कामों के लिए बना हो। नए नोकिया 3310 को इस्तेमाल करने में कोई समस्या नहीं होती और पहले से इंस्टॉल आने वाले ऐप बेहद अच्छे से चलते हैं।

नोकिया सीरीज़ 30+ ऑपरेटिंग सिस्टम को मीडियाटेक ने बनाया है और फ़ीचर फोन के लिहाज़ से यह शानदार है। इससे पहले इस ऑपरेटिंग सिस्टम को नोकिया 150 के लिए भी इस्तेमाल किया जा चुका है। फोन में ओपेरा मिनी ब्राउज़र पहले से इंस्टॉल आता है जिसमें फेसबुक, ट्विटर, गूगल, मेल चेक करना और कई दूसरी वेबसाइट सर्फ की जा सकी हैं। लेकिन बिना वाई-फाई औ 3जी/4जी कनेक्टिविटी के किसी वेबपेज के खुलने में लगने वाले समय तक आप शायद अपने बाल नोंचने लगेंगे। ऐप्स एंड गेम्स सेक्शन में जाकर, आप ट्विटर और फेसबुक ऐप के वर्ज़न डाउनलोड कर सकते हैं। लेकिन व्हाट्सऐप के लिए कोई सपोर्ट नहीं है और कम बजट वाले ग्राहकों के लिए यह एक बड़ा नुकासन है। मैसेज करन के लिए एसएमएस ऐप का इस्तेमाल करना होगा।

नोकिया 3310 के रियर पर एलईडी फ्लैश के साथ एक 2 मेगापिक्सल का कैमरा है। इमेज क्वालिटी की बात करें तो तारीफ़ करने के लिए वाकई कुछ भी नहीं है। सूरज की रोशनी में कैमरे से अच्छी रोशनी व कलर वाली तस्वीरें आती हैं, लेकिन फोकस बहुत ज़्यादा शार्प नहीं है। अंधेरे में ली गई तस्वीरें, फ्लैश इस्तेमाल करने पर भी खराब़ ही आती हहैं। इसलिए किसी भी स्थिति में इस कैमरे पर निर्भर रहना अच्छा नहीं होगा। 2.4 इंच स्क्रीन पर देखने के लिहाज़ से तो तस्वीरें ठीक हैं लेकिन सोशल मीडिया पर शेयर करने लायक नहीं हैं। इसके अलावा वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जा सकती है, लेकिन थोड़ा भी हिलने पर फोकस हट जाता है इसलिए बेहतर परिणाम पाने के लिए आपको बेहद धीमे रिकॉर्डिंग करनी होगी। माइक्रोएसडी कार्ड के बिना, आप फोन में अधिकतम 7-10 तस्वीरें ही स्टोर कर पाएंगे। कैमरे में सेपिया, ब्लैक एंड व्हाइट जैसे इफेक्ट भी हैं, जो तस्वीरों को ज़्यादा बेहतर बनाने के काम आएंगे।
 
nokia
nokia

नोकिया 3310 में दी गई 1200 एमएएच की बैटरी के साथ 22 घंटे तक टॉक टाइम और एक महीने तक का स्टैंड बाय टाइम देने का दावा किया गया है। फोन के साथ गुज़ारे समय के दौरान चार दिन तक 2-3 घंटे तक गेम खेलने, कॉल करने और म्यूज़िक सुनने के बाद भी 50 प्रतिशत से ज़्यादा बैटरी बची थी। इससे पता चलता है कि बैटरी करीब एक हफ्ते तक चल जाएगी, हालांकि, फ़ीचर फोन के लिए यह नई बात नहीं है। नोकिया 150 में 1020 एमएएच की बैटरी है और इससे भी समान बैटरी लाइफ मिलने का दावा किया गया है। इसकी कीमत 2,000 रुपये के आसपास है।
 
nokia

ईमानदारी से कहें तो, नोकिया 3310 एक सेकेंडरी हैंडसेट हो सकता है। इसके अलावा घर में इसे एक कॉमन फोन के तौर पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। फोन में कई जरूरी फ़ीचर जैसे वाई-फाई, 3जी/4जी कनेक्टिविटी और जीपीएस जैसे फ़ीचर भी नहीं है।

हमारा फैसला
यह बात शुरुआत से ही स्पष्ट है कि एचएमडी ग्लोबल नोकिया 310 (2017) को पुरानी यादों के चलते वापस ला रही है। क्लासिक नोकिया रिंगटोन, फिज़िकल बटन, छोटी बॉडी और मजबूत बिल्ड क्वालिटी ऐसे फ़ीचर हैं जिसके चलते ओरिजिनल नोकिया 3310 इस्तेमाल करने जैसा अहसास होगा। और शायद नोकिया के दीवानों के लिए इस फोन को खरीदने की इतनी वज़हें काफ़ी हैं। और यह फ़ीचर फोन अमेरिका में गैलेक्सी एस8 की जितनी तेजी से ही सोल्ड आउट हो चुका है। सवाल यह है कि लोग इस फोन को इस्तेमाल करने के लिए खरीद रहे हैं या फिर सिर्फ एक कलेक्शन और याद के तौर पर।

एचएमडी ग्लोबल ने गैज़ेट्स 360 को बताया कि नोकिया 3310 को भारत में बेहद अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। और शुरुआती स्टॉक सोल्ड आउट हो चुका है। यह इस बात का सबूत है कि लोग नोकिया ब्रांड के हैंडसेट को मजबूती, भरोसेमंद और अच्छे लुक के चलते खरीदते हैं।
 
nokia

नए नोकिया 3310 में तीन चीजें हैं जो इसे बेहतर बनाती हैं- लुक, बैटरी लाइफ और स्नेक गेम। लेकिन 3,310 रुपये के साथ, इन फ़ीचर के साथ आने वाला यह सबसे किफ़ायती हैंडसेट नहीं है। बल्कि इस कीमत में कार्बन या माइक्रोमैक्स जैसी कंपनियों के एंट्री-लेवल स्मार्टफोन के लिए कई विकल्प मिल जाएंगे। और एक ऐसी दुनिया जहा अब व्हाट्सऐप एक जरूरत बन गया है, नोकिया 3310 (2017) में वो सब कुछ नहीं है जिसकी खरीदारों को जरूरत है।

एचएमडी ग्लोबल ने पुराने क्लासिक फोन को, आधुनिक संसार में लॉन्च कर ख़ूब सुर्खियां बटोरी हैं। कम कीमत में ज़्यादा फंक्शनालिटी की चाहत रखने वालों के लिए नोकिया 3310 (2017) फ़ीचर फोन सबसे अच्छा चुनाव नहीं है। लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जो सिर्फ अच्छी वॉयस क्वालिटी, एसएमएस फंक्शनालिटी और एक या दो गेम चाहते हैं, उनके लिए यह एक अच्छा विकल्प है।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी

डिस्प्ले

2.40 इंच

बैटरी क्षमता

1200 एमएएच

फ्रंट कैमरा

नहीं

रिज़ॉल्यूशन

240x320 पिक्सल

ओएस

सीरीज 30

स्टोरेज

16 एमबी

रियर कैमरा

2 मेगापिक्सल
संकेत विजयसारथी फ्लैश, स्टार वार्स और म्यूज़िक बैंड कोल्ड प्ले व यू2 के संकेत बहुत बड़े वाले फैन हैं। दिन में टेक्नोलॉजी व रात में टीवी शो की दुनिया, और ... और भी »

संबंधित ख़बरें

 
 
 
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।