माइक्रोमैक्स डुअल 5 का रिव्यू

 
माइक्रोमैक्स डुअल 5 का रिव्यू

ख़ास बातें

  • माइक्रोमैक्स डुअल 5 में 13 मेगापिक्सल के दो रियर कैमरे हैं
  • इस फोन की कीमत 24,999 रुपये है
  • गैज़ेट्स 360 ने इस फोन को 10 में से 8 रेटिंग दी है
घरेलू स्मार्टफोन निर्माता माइक्रोमैक्स 2016 की पहली छमाही में टॉप स्मार्टफोन विक्रेताओं में से एक थी। आईडीसी के एक अध्ययन में 2016 की दूसरी तिमाही में सैमसंग के बाद माइक्रोमैक्स सबसे ज़्यादा स्मार्टफोन बेचकर दूसरे नंबर पर रही। बहरहाल, तब से लेकर अब तक इंडस्ट्री में बड़े बदलाव हुए हैं। और पिछले साल के अंत तक चीनी कंपनियों ने बाज़ार पर कब्ज़ा जमाया। ताजा आंकड़ों पर गौर करें तो टॉप पांच में कोई भी घरेलू निर्माता शामिल नहीं है।

माइक्रोमैक्स ने अब डुअल सीरीज़ के साथ एक बार फिर नई शुरुआत की है। और पहला स्मार्टफोन डुअल 5 लॉन्च कर दिया है। स्पेसिफिकेशन की बात करें तो माइक्रोमैक्स डुअल 5 दमदार लगता है और सॉफ्टवेयर भी अच्छा है। कंपनी का यह भी दावा है कि अपने सेगमेंट में डुअल 5 में सबसे बेहतर कैमरा दिया गया है।


माइक्रोमैक्स की योजनाा इस नई सीरीज़ के साथ प्रीमियम स्मार्टफोन कैटेगरी (20,000 रुपये से ज़्यादा वाली) में 19 प्रतिशत बाज़ार हिस्सेदारी का है। लेकिन राह इतनी भी आसान नहीं है। क्या यह नया फोन बाज़ार में मौज़ूद दूसरे बड़े नामों को टक्कर दे पाएगा? रिव्यू में जानते हैं।

माइक्रोमैक्स डुअल 5 डिज़ाइन
माइक्रोमैक्स डुअल 5 पूरी तरह मेटल बॉडी का बना है और इसमें चैम्फर्ड किनारे हैं। हाथ में पकड़ने पर फोन दमदार अहसास देता है। अगले हिस्से पर दिया 2.5डी कर्व्ड-एज ग्लास फोन को आकर्षक और प्रीमियम अहसास देता है। रियर से देखने पर फोन अच्छा दिखता है। ऊपर व नीचे की तरफ़ एंटीना बैंड हैं। इसके अलावा रियर पर दो कैमरे, डुअल-टोन एलईडी फ्लैश और एक फिंगरप्रिंट सेंसर है। रियर पर नीचे की तरफ़ माइक्रोमैक्स का लोगो है और हमें ब्रांडिंग का यह तरीका पसंद आया क्योंकि कई सारे लोगो के बिना यह फोन साफ-सुथरा दिखता है। घुमावदार किनारों के चलते फोन की ग्रिप अच्छी रहती है और इसे हाथ में सुविधाजनक तरीके से पकड़ा ज सकता है। माइक्रोमैक्स ने इसे 'आर्क डिज़ाइन' नाम दिया है।

फोन में दांयीं तरफ पावर और वॉल्यूम बटन हैं। बांयीं तरफ कस्टमाइज़ हो सकने वाले एक 'स्मार्ट की' है। बांयीं तरफ़ एक हाइब्रिड डुअल-सिम ट्रे है। फोन में एक 3.5 एमएम ऑडियो जैक और ऊपर की तरफ इलेक्ट्रॉनिक अप्लायंस को कंट्रोल करने के लिए इन्फ्रारेड अमीटर है। फोन में नीचे की तरफ़ एक यूएसबी टाइप-सी पोर्ट और स्पीकर ग्रिल है। डुअल 5 में डिस्प्ले के ठीक नीचे एंड्रॉयड नेविगेशन के लि एक कैपेसिटिव नेविगेशन बटन है। ये बटन बैकलिट नहीं हैं जो कि इस कीमत वाले फोन के लिए एक समस्या है।
 
micromax

5.5 इंच डिस्प्ले के बावज़ूद, माइक्रोमैक्स डुअल 5 को पकड़ना आसान है और इसे आसानी से एक हाथ से इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, हमारा सुझाव है कि फोन को दोनों हाथों से पकड़ें क्योंकि मेटल के बने बैक पैनल के चलते यह फिसल सकता है। डुअल 5 डिस्प्ले को देखते हुए 164 ग्राम के हल्के वज़न के साथ आता है।  

हमारी नज़र में, डुअल 5 माइक्रोमैक्स द्वारा लॉन्च किए गए अब तक के सबसे ख़ूबसूरत स्मार्टफोन में से एक है। इस प्राइस सेगमेंट में आने वाले दूसरे स्मार्टफोन की तुलना में निश्चित तौर पर यह फोन बेहतर दिखता है।

माइक्रोमैक्स डुअल 5 स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
डुअल 5 में ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 652 प्रोसेसर है। फोन में 4 जीबी रैम और 128 जीबी की बड़ी स्टोरेज है। स्टोरेज फोन की सबसे बड़ी ख़ासियतों में से एक है। इस कीमत में 128 जीबी स्टोरेज के साथ आने वाले बहुत कम विकल्प बाज़ार में मौज़ूद है। शाओमी मी मैक्स प्राइम 128 जीबी स्टोरेज और स्नैपड्रैगन 652 प्रोसेसर के साथ आने वाला एक और हैंडसेट है, लेकिन डुअल 5 का कोई और फ़ीचर इसमें नहीं है।

माइक्रोमैक्स डुअल 5 में 5.5 इंच फुल एचडी (1080x1920 पिक्सल) सुपर एमोलेड डिस्प्ले है जो 2.5डी कर्व्ड कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 3 प्रोटेक्शन के साथ आता है। इसके अलावा, डुअल 5 में दूसरे सिम कार्ड को हटाकर स्टोरेज को 128 जीबी तक के माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए बढ़ाया जा सकता है। कनेक्टविटी के लिए फोन में 4जी वीओएलटीई, वाई-फाई 802.11 एसी और ब्लटूथ 4.1 जैसे फ़ीचर हैं। फोन में एक्सीलेरोमीटर, एम्बियंट लाइट सेंसर, जायरोस्कोप, इन्फ्रारेड सेंसर और प्रॉक्सिमिटी सेंसर है। इस फोन में 3200 एमएएच की बैटरी है जो क्विक चार्ज 3.0 सपोर्ट करती है। कंपनी का दावा है कि फोन की बैटरी मात्र 45 मिनट में 95 प्रतिशत तक चार्ज हो जाती है।
 
micromax

यह फोन एंड्रॉयड 6.0.1 मार्शमैलो पर चलता है जिसके ऊपर कंपनी की यूआई दी गई है। माइक्रोमैक्स ने एक नई यूआई को विकसित किया है जिसे भविष्य में आने वाले दूसरे डिवाइस में भी देखा जा सकता है। नए इंटरफेस में ऐप ड्रॉर नहीं है जिसका मतलब है कि सभी ऐप होम स्क्रीन पर ही रहेंगे। ऐप आइकन, क्विक सेटिंग टॉगल और सेटिंग ऐप को पूरी तरह से नया रंगरूप दिया गया है। नई स्किन में कई सारे एनिमेशन हैं और हमें पहले से इंस्टॉल आने वाला स्पीडअप मेमोरी मैनेजमेंट ऐप ख़ासा पसंद आया। फोन को अनलॉक किए बिना ऐप लॉन्च करने के लिए 'स्मार्ट की' सेट कर सकते हैं।

फोन में एक थीम ऐप है जिससे यूज़र छह डिफॉल्ट थीम के अलावा वॉलपेपर, रिंगटोन और फॉन्ट चुन सकते हैं। लेकिन, फोन में अभी और ज़्यादा थीम जोड़ने के लिए कोई तरीका नहीं है, लेकिन आने वाले समय में ऐा होने की उम्मीद है। फोन में एक अलग वॉलपेपर ऐप भी है जिससे ऐप आइकन पर एक टैप पर ही वॉलपेपर बदला जा सकता है। एक फ्रीज़र ऐप के जरिए यूज़र कम इस्तेमाल होने वाले ऐप को ड्रैग और ड्रॉप कर सकते हैं। इससे फोन को स्पीड से चलाने में मदद मिलती है। 

यूज़र, फोन में एक गूगल अकाउंट को लिंक करके एंटी-थेफ्ट ऐप सेट कर सकते हैं। इसके बाद डिवाइस के खोने की स्थिति में इसे ट्रैक किया जा सकता है। हमें माइक्रोमैक्स का नया सेफस्विच फ़ीचर पसंद आया, जिससे फोन के चोरी होने की स्थिति में डेटा सुरक्षित रहता है। डुअल 5 के लॉन्च के समय, कंपनी ने स्पष्ट किया कि फोन से सिम कार्ड निकालने पर फिज़िकल बटन अपने आप लॉक हो जाएंगे और 30 सेकेंड के अंदर पासवर्ड डालने पर ही इसे डिसेबल किया जा सकेगा। बटन के एक्टिव ना होने से फोन बंद नहीं होगा और यूज़र को फोन को ट्रैक करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा, अगर सिम निकालने के 60 मिनट के अंदर कोई पासवर्ड नहीं डाला जाता है तो, फोन से निज़ी डेटा को डिलीट किया जा सकता है। इसके अलावा, अगर कोई आपके फोन को अनलॉक करने की कोशिश करता है तो, उनकी तस्वीर खिंच जाएगी और इसे आपके द्वारा सेट किए गए अकाउंट को भेज दिया जाएगा।
 
micromax

माइक्रोमैक्स का कहना है कि डुअल 5 में मजबूत पासवर्ड और फिंगरप्रिंट व ईएएल 5+ मिलिट्री ग्रेड सिक्योरिटी के लिए एक इंडिपेंडेंट सिक्योरिटी चिप है दिया गया है। डुअल 5 में सिक्योरवॉल्ट नाम का भी एक फ़ीचर है। यह एक ऐसी जगह है जिसके लिए अलग फिंगरप्रिंट सेट किया जा सकता है। यहां पर स्टोर की गई सूचना को बिना अनलॉक किए एक्सेस नहीं किया जा सकता। इस फ़ीचर ने हमारी कोशिश में उम्मीद के मुताबिक काम किया। इसके अलावा फोन में 360 सिक्योरिटी और 360 क्लोन जैसे सुरक्षा ऐप भी हैं। हीट सोर्स नाम के ऐप से आप बैकग्राउंट में चल रहे उन ऐप को जान सकते हैं जिनकी वज़ह से फोन गर्म हो रहा है।

जैसा कि आप देख सकते हैं कि, इस फोन में कई सारे ऐप पहले से इंस्टॉल आते हैं। लेकिन अच्छी बात है कि इनमें से कई को हटाया जा सकता है। हमें लगता है कि अगर फोन एंड्रॉयड नूगा के साथ आता तो और बेहतर रहता। आजकल इस प्राइस सेगमेंट में यह एक आम फ़ीचर बन रहा है।

माइक्रोमैक्स डुअल 5 कैमरा परफॉर्मेंस
माइक्रोमैक्स डुअल 5 में अपने नाम के ही मुताबिक, 13 मेगापिक्सल के दो रियर कैमरे दिए गए हैं। दोनों कैमरों से एक साथ तस्वीरें ली जा सकती हैं। इसके बाद फोन का सॉफटवेर एक सिंगल तस्वीर को प्रोसेस करता है। इन दो सेंसर का इस्तेमाल फोकस और डेप्थ-ऑफ-फील्ड के लिए होता है। दोनों कैमरों में अपर्चर एफ/1.8 और फेज़ डिटेक्शन ऑटोफोकस (पीडीएएफ) का इस्तेमाल किया गया है। फोन में बोकेह इफेक्ट है। इस फोन को अभी तक बहुत कम फोन में देखा गया है।

कैमरा ऐप में डिफॉल्ट तौर पर डुअल सेंसर मोड रहता है, हालांकि इसे मैनुअली बदला जा सकता है। डुअल 5 के कैमरे की सबसे अहम ख़ासियत है कलर रीप्रोडक्शन, डिटेल और शार्पनेस। अच्छी रोशनी में फोन से शानदार तस्वीरें आईं, ख़ासकर क्लोज़-अप शॉट। हमें माइक्रोमैक्स डुअल 5 के तेजी से फोकस करने की ख़ासियत पसंद आई। लेकिन तस्वीरों को प्रोसेस होने में समय लगता है, जिससे यूज़र को परेशानी हो सकती है। हमें यह देखकर हैरानी हुई कि डुअल मोड की जगह रेगुलर मोड में भी तस्वीरों को प्रोसेसर होने में उतना ही समय लगता है। उम्मीद है कि माइक्रोमैक्स आने वाले सॉफ्टवेयर अपडेट के जरिए इस कमी को सुधार लेगी।
 
micromax
micromax
micromax
micromax

कम रोशनी में डुअल 5 से ली जाने वाली तस्वीरें रोशनी के हिसाब से अलग-अलग रहती हैं। कुछ तस्वीरें हमें आकर्षक लगीं, लेकिन अंधेरे में फोन क्वालिटी कम हो जाती है। कम रोशनी में ली गईं तस्वीरों में काफ़ी नॉयज़ दिखता है। हालांकि, टेक्सचर और कलर ठीक रहे। फोन के डिस्प्ले पर तस्वीरें अच्छी दिखीं लेकिन बड़े स्क्रीन पर तस्वीरों में नॉयज़ देखा जा सकता है।

डुअल 5 में अपर्चर एफ/2.0 के साथ 13 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। ऐप में एक स्मार्टब्यूटी मोड है जिससे सेल्फी को ज़्यादा ख़ूबसूरत बनाया जासकता है। हमें दिन की रोशनी में डुअल 5 से ली गईं सेल्फी अच्छे कलर रीप्रोडक्शन और डिटेलिंग के साथ मिलीं, लेकिन रात में यही क्वालिटी नहीं रह पाती।

फोन के कैमरा ऐप में कई सारे मोड हैं। प्रो मोड से व्हाइट बैलेंस, आईएसओ, फोकस और शटर स्पीड को मैनुअली सेट किया जा सकता है। क्लोज़-अप फोटोग्राफी के लिए मैक्रो मोड दिया गया है। कैमरा 4के वीडियो रिकॉर्डिंग के अलावा स्लो मोशन, जिफ़ और टाइम लैप्स वीडियो सपोर्ट करता है। फोन में कुछ फिल्टर भी हैं।

माइक्रोमैक्स डुअल 5 परफॉर्मेंस
डुअल 5 की सामान्य परफॉर्मेंस ने हमें प्रभावित किया और हमें मल्टीटास्किंग के दौरान कोई कोई समस्या नहीं हुई। फोन में एचडी वीडियो बिना किसी समस्या के चलती है। स्पीकर से आने वाली आवाज़ भी हमें अच्छी लगी क्योंकि ज़्यादा वॉल्यूम होने पर भी साउंड स्पष्ट सुनाई देता है और एक कमरे के लिए यह ठीकठाक है। हमारे रिव्यू यूनिट के साथ हमें रिटेल बॉक्स नहीं मिला, इसलिए हम साथ आने वाले ईयरफोन के बारे में कुछ नहीं बता सकते। हालांकि, हमारे ईयरफोन से मिलने वाली आवाज़ शानदार थी।

माइक्रोमैक्स डुअल 5 में कॉल क्वालिटी शानदार रही और यह वीओएलटीई (वॉयस ओवर एलटीई) सपोर्ट करता है। माइक्रोमैक्स के मुताबिक, डुअल 5 में स्टीरिोस्कॉपिक एंटीना दिए गए हैं जिससे सिग्नल 3 गुना तेजी से आते हैं। हमारे रिव्यू के दौरान हमने पाया कि कमजोर एरिया वाले नेटवर्क पर भी कोई दिक्कत नहीं हुई। सुपर एमोलेड पैनल चमकदार और शार्प है। कलर चटकीले और टच रिस्पॉन्स भी शानदार रहा। व्यूइंग एंगल बेहद बढ़ियां हैं। फिंगरप्रिंट सेंसर भी तेजी से काम करता है। डुअल 5 ने बेंचमार्क टेस्ट में शानदार स्कोर किया जो कि इस प्राइस सेगमेंट वाले दूसरे फोन के समान ही है।
 
micromax

हमारे रिव्यू के दौरान, हमने देखा कि डुअल 5 बेंचमार्क ऐप के समय या लंबे समय तक कैमरा इस्तेमाल के दौरान गर्म हो गया। फोन गूगल मैप्स को इस्तेमाल करते समय नेविगेशन के दौरान भी गर्म हो जाता है। ग्राफिक्स गेम जैसे डेड ट्रिगर 2, एसफाल्ट 8 और सुपर मारियो रन खेलते समय भी फोन का रियर थोड़ा गर्म हो जाता है। हालांकि, इससे बहुत परेशानी नहीं होती है लेकिन यह ध्यान ख़ीचता है।

सामान्य इस्तेमाल के दौरान, डुअल 5 की बैटरी एक पूरे दिन चली और हमें बैटरी को लेकर कोई शिकायत नहीं है। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में डुअल 5 की बैटरी 10 घंटे और 50 मिनट तक चली, जो कि बुरा नहीं है। लेकिन इतनी ही बैटरी क्षमता वाले दूसरे फोन में हमने बेहतर बैटरी परफॉर्मेंस देखी है। 20 मिनट की चार्जिंग में फोन ज़ीरो से 40 प्रतिशत तक चार्ज हो जाता है और एक घंटे से भी कम समय में फोन फुल चार्ज होता है।

हमारा फैसला
माइक्रोमैक्स डुअल 5 की ओवरऑल परफॉर्मेंस ने हमें चौंकाय। वादे के मुताबिक, डुअल रियर कैमरे से हाई-क्वालिटी वाली तस्वीरें मिलीं। कंपनी एक साल के लिए मुफ्त रीप्लेसमेंट वारंटी दे रही है। इस ऑफर के अलावा, माइक्रोमैक्स ने यह भी दावा किया कि कंपनी ने अपने सेल्स सर्विस नेटवर्क को ज़्यादा बेहतर किया है।

डुअल 5 की कीमत और स्पेसिफिकेशन को देखें तो इसकी सीधी प्रतिद्वंदिता वीवो वी5 प्लस (रिव्यू), सैमसंग गैलेक्सी ए5 (2017) और असूस ज़ेनफोन 3 (रिव्यू) से होगी। ये सभी फोन इसी कीमत के आसपास मिलते हैं। डुअल 5 को हॉनर 8 (रिव्यू) के विकल्प के तौर पर भी देखा जा सकता है, जो कि डुअल 5 से महंगा है। अगर आप थोड़े और पैसे खर्च करना चाहते हैं तो वनप्लस 3टी (रिव्यू) की कमत 29,999 रुपये से शुरू होती है और यह एक ज़्यादा बेहतर पैकेज है।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी

डिस्प्ले

5.50 इंच

बैटरी क्षमता

3200 एमएएच

प्रोसेसर

1.4 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर

फ्रंट कैमरा

13 मेगापिक्सल

रिज़ॉल्यूशन

1080x1920 पिक्सल

रैम

4 जीबी

ओएस

एंड्रॉ़यड 6.0

स्टोरेज

128 जीबी

रियर कैमरा

13 मेगापिक्सल
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।
Redmi Note 4
केतन प्रताप गैजेट्स 360 के लिए केतन प्रताप ख़बरों के खिलाड़ी हैं। केतन ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन से अंग्रेजी पत्रकारिता की पढ़ाई ... और भी »

संबंधित ख़बरें

 
 
 

Advertisement