Jio Phone इस्तेमाल करते रहने के लिए हर साल 1,500 रुपये का रीचार्ज ज़रूरी, वरना...

 
Jio Phone इस्तेमाल करते रहने के लिए हर साल 1,500 रुपये का रीचार्ज ज़रूरी, वरना...
जियो फोन आपके लिए पिछली बार लगाए गए अनुमान से ज़्यादा महंगा होने जा रहा है। रिलायंस जियो ने भारत में साठ लाख ग्राहकों को जियो फोन हैंडसेट की डिलिवरी करना शुरू कर दिया है और कंपनी ने पहली बार अपनी वेबसाइट पर फ़ीचर फोन के लिए जरूरी नियम व शर्तों को साझा किया है।

जियो फोन के लॉन्च के समय, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने कहा था कि ग्राहकों के लिए जियो फोन प्रभावी तौर पर मुफ्त रहेगा। क्योंकि जो 1,500 रुपये रिलायंस जियो को ग्राहक देंगे वो 3 साल बाद वापस मिल जाएंगे। लेकिन उस समय यह खुलासा नहीं किया गया था कि जियो फोन खरीदने वाले ग्राहकों को 3 साल तक फोन को इस्तेमाल करने के दौरान हर साल 1,500 रुपये का रीचार्ज करना होगा। अब वेबसाइट पर कंपनी ने इस बात की जानकारी दी है।

कंपनी ने यह भी खुलासा किया है कि अगर ग्राहक 3 साल के अंदर जियो फोन वापस करते हैं तो 1,500 रुपये चुकाने होंगे।

'Mandatory' (अनिवार्य) रीचार्ज
जरूरी शर्तों में लिखा गया है, ''जियो फोन को लगातार इस्तेमाल करते रहने के लिए यूज़र को रिलायंस जियो या किसी आधिकारिक रिटेलर से हर साल कम से कम 1,500 रुपये का रीचार्ज कराना होगा और ऐसा फोन मिलने के लगातार तीन साल तक करना होगा।''

इसे इस तरह समझें कि, आप अगले तीन साल में जियो फोन पर 4,500 रुपये से ज़्यादा खर्च करेंगे, तो हैंडसेट मिलने के लिए डिपॉज़िट के तौर पर जमा कराए गए 1,500 रुपये का अमाउंट कंपनी आपको वापस दे देगी।

लेकिन इतना ही नहीं, जो लोग 1 साल में कम से कम 1,500 रुपये का रीचार्ज कराने में असफल रहते हैं तो रिलायंस जियो के पास हैंडसेट वापस लेने का अधिकार सुरक्षित होगा। इसके अलावा, रिलायंस जियो का कहना है कि ऐसे ग्राहकों को कंपनी को अतिरिक्त शुल्क भी देना पड़ेगा।

अगर आप जियो फोन लौटाते हैं
कंपनी ने रिलायं जियो फोन की रिटर्न पॉलिसी के बारे में भी जानकारी दी है। मान लीजिए, आपको अहसास होता है कि जियो फोन आपके लिए नहीं बना है और आप इसे कंपनी को लौटाना चाहते हैं। ऐसे में रिलायंस जियो का कहना है कि जो लोग जियो फोन हैंडसेट को पहले साल के अंदर लौटाएंगे, उन्हें 1,500 रुपये के अलावा जीएसटी और दूसरे टैक्स देने पड़ेंगे।

जो ग्राहक जियो फोन फ़ीचर फोन को एक साल बाद लेकिन दो साल से पहले वापस करते हैं, उन्हें 1,000 रुपये और जीएसटी व दूसरे शुल्क देने होंगे। इसी तरह, जो ग्राहक दो साल बाद लेकिन तीन साल के पहले डिवाइस वापस करते हैं उन्हें 500 रुपये का शुल्क, जीएसटी और दूसरे टैक्स देने होंगे।

रिलायंस जियो ने इसी महीने जानकारी दी थी कि अब तक साठ लाख से ज़्यादा जियोफोन हैंडसेट के लिए प्री-ऑर्डर हो चुके हैं। कंपनी का कहना है कि ग्राहकों को जियो फोन मिलना शुरू हो चुके हैं।

संबंधित ख़बरें

 
 
 
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।