Google Pixel 2 और Pixel 2 XL एक्सएल में क्या है ख़ास?

 
Google Pixel 2 और Pixel 2 XL एक्सएल में क्या है ख़ास?
गूगल ने अपनी पिक्सल सीरीज़ के तहत दो नए स्मार्टफोन पिक्सल 2 और पिक्सल 2 एक्सएल लॉन्च कर दिए हैं। गूगल की नई जेनरेशन के इन फ्लैगशिप स्मार्टफोन की चुनौती सैमसंग गैलेक्सी एस8 सीरीज़, गैलेक्सी नोट 8, ऐप्पल आईफोन एक्स और 8 सीरीज़ व एलजी वी30 से होगी। इसके अलावा सोनी का नया एक्सपीरिया एक्सज़ेड1 भी चुनौती के लिए तैयार है। क्या नए पिक्सल स्मार्टफोन बेहतर परफॉर्म कररते हैं? कंपनी के सैन फ्रांसिस्को में हुए इवेंट में हमें इन स्मार्टफोन के साथ थोड़ा समय बिताने का मौका मिला। आइये जानें पहली बार इन्हें इस्तेमाल कर हमें कैसा लगा।


गूगल पिक्सल 2 और पिक्सल 2 एक्सएल में पिछले पिक्सल फोन की तरह ही कई सारे मुख्य फ़ीचर और स्पेसिफिकेशन एक जैसे हैं। दोनों फोन में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर और 4 जीबी रैम है। दोनों स्मार्टफोन 64 जीबी और 128 जीबी स्टोरेज में उपलब्ध होंगे। ओरिजिनल पिक्सल फोन की तरह ही नए पिक्सल स्माटफोन भी एक्सपेंडेबल स्टोरेज सपोर्ट नहीं करते। दोनों फोन आईपी67 रेटिंग के साथ आते हैं यानी पानी और धूल के कण से सुरक्षित रहेंगे। स्टीरियो स्पीकर भी दिए गए हैं। दोनों फोन एल्युमिनियम यूनिबॉडी के बने हैं और रियर पर फिंगरप्रिंट सेंसर है। दोनों फोन एंड्रॉयड 8 ओरियो पर चलते हैं और लंबे समय तक अपडेट मिलने की गारंटी भी है। एक्टिव एज नाम का एक नया फ़ीचर भी है जो कि एचटीसी यू11 के 'स्क्वीज़' जेस्चर की तरह है और इससे गूगल असिस्टेंट एक्टिव भी हो जाएगा।

दोनों फोन को थोड़े समय तक इस्तेमाल करने के बाद हमने पाया कि पिक्सल 2 रोजमर्रा के इस्तेमाल के लिए बेहतर तरीके से डिज़ाइन किया गया है। जबकि एक्सएल वेरिएंट उन लोगों के लिए जो शो ऑफ करना चाहते हैं। क्योंकि पिक्सल 2 में एक 16:9 आस्पेक्ट रेशियो का फुल एचडी स्क्रीन है जबकि एक्सएल वेरिएंट में 18:9 क्वाडएचडी+ पैनल है। पिक्सल 2 को हाथ में पकड़ना आसान है और यह हल्का महसूस होता है। इसका 5 इंच फुल एचडी ओलेड पैनल से कलर अच्छी तरह सैचुरेटेड होते हैं। वहीं दूसरी तरफ़, पिक्सल 2 एक्सएल में एक 6 इंच पीओएलेड डिस्प्ले है जिसके चलते गूगल डिववाइस के किनारे को कर्व्ड डिज़ाइन दे सका है। यह डिवाइस भी अच्छे कलर प्रोड्यूस और सैचुरेट करता है।
 
google

चूंकि दोनों डिवाइस में ओलेड पैनल हैं, और ऑलवेज़-ऑन डिस्प्ले और नाउ प्लेइंग फ़ीचर भी हैं। गूगल की एआई क्षमता की मदद से यह फ़ीचर बैकग्राउंड में चल रहे गाने को पहचान लेता है और इसके लिए आपको किसी इंटरनेट कनेक्शन की भी जरूरत नहीं होगी। हमें बताया गया कि गूगल एक ऑन-डिवाइस लाइब्रेरी स्टोर करता है जिसमें 10,000 गाने हैं।

दोनों स्मार्टफोन में बटन ठीक जगह दिए गए हैं, हालांकि एक्सएल वेरिएंट में बटन तक उंगलियां पहुंचने में थोड़ी मेहनत लगती है। नीचे की तरफ़ फोन में एक यूएसबी टाइप-सी पोर्ट है और दोनों फोन में बांयीं तरफ एक सिम ट्रे दी गई है। फोन में हेडफोन सॉकेट नहीं है जो निराश करता है।

नए वेरिएंट में नए होम स्क्रीन के साथ सॉफ्टवेयर में थोड़े बहुत बदलाव किए गए हैं। ऊपर की तरफ़ आपको अपने हर दिन के काम का स्निपेट मिलेगा। इसके अलावा कैलेंडर से रिमाइंडर और अपॉइंटमेंट भी देखे जे सकते हैं। गूग सर्च बॉक्स को नीचे पहुंचा दिया गया है जिससे इसकी पहुंच पहले से आसान हो गई है। होम स्क्रीन के बीच स्वाइप करने पर भी आपको गूगल सर्च दिखेगा।

गूगल पिक्सल और पिक्सल एक्सल पिछले साल लॉन्च होने वाले सबसे बेहतर फोन साबित हुए। और पिक्सल 2 और पिक्सल 2 एक्सएल के साथ भी ऐसा ही है। इन नए स्मार्टफोन ने DxOMark में 98 स्कोर किया और आईफोन 8 व सैमसंग गैलेक्सी नोट 8 को पछाड़ दिया। इन दोनों स्मार्टफोन ने 94 पॉइंट हासिल किए थे। ओरिजिल पिक्सल फोन की तुलना में यह एक बड़ी उपलब्धि है। गूगल ने इन फोन में सिंगल कैमरा दिया है। गूगल ने हमें जानकारी दी थी कि कैमरे में हार्डवेर और एआई या मशीन लर्निंग का कॉम्बिनेशन है। जिसने पिक्सल 2 और पिक्सल 2 एक्सएल को यह उपलब्ध हासिल करने में मदद की है। दोनों फोन में वाइड अपर्चर एफ/1.8 और ऑप्टिकल इमेज स्टेबिलाइज़ेशन के साथ 12.2 मेगापिक्सल सेंसर है। वीडियो रिकॉर्डिंग के दौरान, फोन में ओआईएस और ईआईएस के कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल होता है। अभी हमने फोन चलाते समय देखा कि फोन 30 फ्रेमप्रतिसेकेंड पर 4के सपोर्ट करता है जबकि आईफोन 8 60 फ्रेम प्रति सेकेंड पर 4के सपोर्ट करता है।
 
pixel
pixel
pixel


हमने सिंगल-कैमरा पोर्ट्रेट मोड को भी इस्तेाल किया और यह फ्रंट व रियर दोनों कैमरों के लिए काम करता है। गूगल के मुताबिक, डुअल-पिक्सल सेंसर के साथ मशीन लर्निंग का इस्तेमाल किया गया है जिससे डेप्थ मैप बनता है और सब्जेक्ट अपने बैकग्राउंड से अलग दिखता है। दूसरे कैमरा ना होने पर भी परिणाम बहुत आकर्षक लगते हैं। हम कैमरे को बहुत ज़्यादा इस्तेमाल नहीं कर सके लेकिन हम इसके बारे में अपना अंतिम फैसला विस्तृत रिव्यू में देंगे।

भारत में, गूगल पिक्सल 2 और पिक्सल 2 एक्सएल स्मार्टफोन को नवंबर से खरी पाएंगे। पिक्सल 2 के 64 जीबी और 128 जीबी स्टोरेज की कीमत क्रमशः 61,000 रुपये और 73,000 रुपये से शुरू होगी। वहीं पिक्सल 2 एक्सएल के 64 जीबी स्टोरेज की कीमत 73,000 रुपये से शुरू होती है। और यह कीमत आकर्षक है। सैमसंग और ऐप्पल के प्रभुत्व वाले बाज़ार में गूगल इन नए फोन के साथ कड़ी टक्कर दे सकती है। ख़ासतौर पर तब जबकि पहली जेनरेशन वाले पिक्सल स्मार्टफोन ने बिक्री का बहुत बड़ा आंकड़ा नहीं छुआ। गूगल ने गैजेट्स 360 को बताया कि, ''हमने भारत में पिक्सल फोन के साथ बहुत कुछ सीखा है और हम हमारे मार्केटिंग निवेश को बढ़ा रहे हैं।''
 
google

इसका मतलब है कि गूगल ऑफलाइन चैनल को भी एक विकल्प के तौर पर देखेगी। क्योंकि भारत में अमेरिका की तुलना में फोन 20,000 रुपये ज़्यादा महंगा है। हालांकि यह फैसला गूगल के पक्ष में कितना होगा यह आने वाले समय में ही पता चलेगा नए फोन देखने में अच्छे लगते हैं लेकिन ऐप्पल और सैमसंग के फ्लैगशिप स्मार्टफोन की तुलना में यह कैसा परफॉर्म करता है, इस बारे में हम आपको आने वाले फुल रिव्यू में बताएंगे।

डिस्प्ले

5.00 इंच

बैटरी क्षमता

2700 एमएएच

प्रोसेसर

1.9 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर

फ्रंट कैमरा

8 मेगापिक्सल

रिज़ॉल्यूशन

1080x1920 पिक्सल

रैम

4 जीबी

ओएस

एंड्रॉ़यड 8.0.0

स्टोरेज

32 जीबी

रियर कैमरा

12.2 मेगापिक्सल

डिस्प्ले

6.00 इंच

बैटरी क्षमता

3520 एमएएच

प्रोसेसर

1.9 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर

फ्रंट कैमरा

8 मेगापिक्सल

रिज़ॉल्यूशन

1440x2880 पिक्सल

रैम

4 जीबी

ओएस

एंड्रॉ़यड 8.0.0

स्टोरेज

64 जीबी

रियर कैमरा

12.2 मेगापिक्सल
रॉयडन सरेजो रॉयडन सरेजो ज़ुबान से फिट होने का शौक रखते हैं। टेक की दुनिया का सब कुछ पसंद है। और कंप्यूटर पार्ट्स की जमखोरी की आदत से धीरे-धीरे ... और भी »

संबंधित ख़बरें

 
 
 
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।