Paytm Payments Bank अब हर किसी के लिए खुला

 
Paytm Payments Bank अब हर किसी के लिए खुला

ख़ास बातें

  • पेटीएम पेमेंट्स बैंक अब हर ग्राहक के लिए खुला है
  • अभी ब्राउज़र या ऑफलाइन यह सुविधा उपलब्ध नहीं है
  • पेटीएम बैंक वार्षिक तौर पर 4 प्रतिशत की ब्याज दर देगा
मई में लॉन्च होने के कई महीने बाद, आख़िरकार पेटीएम पेमेंट बैंक सभी आम यूज़र के लिए आ गया है। लॉन्च के समय, बैंक बीटा फेज़ में था और उस समय यूज़र सिर्फ इनवाइट आधारित सिस्टम के जरिए ही साइन अप कर सकते थे। अब, पेटीम ऐप को लेटेस्ट 6.0.0 पर अपडेट करने के साथ ही बैंक का विकल्प सभी यूज़र के लिए खुला है। यह फ़ीचर एंड्रॉयड और आईओएस दोनों के लिए है। अभी यह सुविधा सिर्फ पेटीएम ऐप के जरिए ही उपलब्ध है और वेब ब्राउज़र के जरिए साइन अप नहीं किया जा सकता। इसके अलावा पेटीएम बैंक के लिए फिलहाल कोई फिज़िकल ब्रांच नहीं हैं।

इसी साल पेमेंट्स बैंक लॉन्च होने से पहले, पेटीएम ने एक नई कॉरपोरेट कंपनी पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड बनाई जिसके पास वॉलेट और नए बैंक के बिज़नेस की जिम्मेदारी है। हालांकि, इन दोनों को एक ही कंपनी द्वारा संचालित किया जाता है, लेकिन पेमेंट बैंक आपको पेटीएम वॉलेट से अलग है।

जब आप ऐप को अपडेट करते हैं तो पहली बार अपडेटट करने पर एक पॉपअप द्वारा बैंक के बारे में आपको बताया जाएगा। और अगर आप इस पर टैप नहीं करते हैं, तो आप बाद में होम पेज पर दिए गए बैंक आइकन पर टैप कर स्क्रीन पर दोबारा जा सकते हैं। अगर आप टैप करते हैं, तो आपसे बैंक के लिए एक पासकोड पूछा जाएगा और एक नॉमिनी अपॉइंट करने को कहा जाएगा जो कि एक आसान प्रक्रिया है। इसके बाद, आपको अपना पता डालना होगा- अगर आपने पेटीएम से खरीदारी की है, तो पहले से स्टोर किया गया पता दिखेगा या फिर आप एक नया पता भी भर सकते हैं। इसके अलावा, आपको आधार नंबर देना होना और आधार कार्ड पर दिए गए नाम को डालना होगा। और इसके बाद पेटीएम केवाईसी की औपचारिकताओं को पूरी करने के लिए एक रीप्रेजेंटेटिव आपके घर आएगा और आपका अकाउंट बना दिया जाएगा। ख़बरों के मुताबिक, अगर आपने पहले ही पेटीएम वॉलेट के लिए केवाईसी करवा चुके हैं तो यह यह प्रक्रिया अपने आप पूरी हो जाएगी।

यह पूरी प्रक्रिया बेहद आसान है और आप बिना किसी ब्रांच में जाए या बिना किसी कागजी कार्यवाही किए ही मिनटों में अकाउंट खुलवा सकते हैं। जैसा कि एयरटेल के साथ है, आपका फोन नंबर ही अकाउंट नंबर भी होता है। आप पेटीएम ऐप में वॉलेट स्टेटमेंट के साथ ही अपना बैंक स्टेटमेंट देख सकते हैं।

बैंक अकाउंट में बैलेंस रखने की कोई न्यूनतम सीमा नहीं है, हालांकि अधिकतम बैलेंस 1 लाख रुपये ही रखा जा सकता है। वॉलेट से अलग, पेमेंट्स बैंक डिपॉज़िट की गई राशि पर ब्याज़ दे सकते हैं और पेटीएम पेमेंट्स बैंक 4 प्रतिशत वार्षिक ब्याज़ ऑफर कर रहा है। पेटीएम का यह भी कहना है कि बैंक अकाउंट से किसी भी इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर (यूपीआई सहित) के लिए कोई ट्रांज़ेक्शन शुल्क नहीं लगेगा। इसके अलावा, बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के ऑनलाइन इस्तेमाल के लिए एक वर्चुअल रूपे कार्ड जारी किया जाता है।

पेटीएम की वेबसाइट के मुताबिक, अगर आपको अपने पेटीएम वॉलेट से बैंक में पैसे ट्रांसफ़र करने की जरूरत है, तो आपको 3 प्रतिशत का शुल्क अदा करना होगा। इसके अलावा, चेकबुक, डिमांड ड्राफ्ट और डेबिट कार्ड जैसी फिज़िकल सुविधाएं भी बेहद कम शुल्क में उपलब्ध कराईं जाएंगी।

पेटीएम अपने एटीएम की शुरुआत नहीं कर रही है। हालांकि, इसके डेबिट कार्ड को बिना किसी शुल्क अदा किए नॉन-मेट्रो एटीएम में पांच बार तक इस्तेमाल किया जा सकता है, और मेट्रो एटीएम में तीन बार। इसके बाद हर बार कैश निकालने पर 20 रुपये शुल्क देना होगा, जबकि बैलेंस चेक करने जैसे दूसरे ट्रांज़ेक्शन के लिए 5 रुपये शुल्क लगेगा।

एयरटेल पेमेंट बैंक द्वारा 7.5 प्रतिशत ब्याज दिया जा रहा है। मज़ेदार बात है कि एयरटेल कोई फिज़िकल डेबिट कार्ड ऑफर नहीं कर रही है, लेकिन ऑनलाइन एक वर्चुअल कार्ड उपलब्ध है।

पेमेंट्स बैंक के लिए कुछ बंदिशें भी हैं- पहली यह कि इन बैंकों को लोन देने की अनुमत नहीं है जिसका मतलब है कि ये क्रेडिट कार्ड जारी नहीं कर सकते। हालांकि, पेमेंट बैंक दूसरी वित्तीय संस्थाओं के साथ साझेदारी कर अतिरिक्त सेवाएं दे सकते हैं, जिनके आने वाले समय में रोलआउट किए जाने की उम्मीद है।

डिस्क्लोज़र: पेटीएम की पेरेंट कंपनी One97 ने गैज़ेट्स 360 में निवेश किया है।
Oppo F3 | F3 Plus

संबंधित ख़बरें

 
लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।